फर्ज निभाने के लिए शमशान में सो गया IAS अफसर

मदुरै : अपनी विलासिता के लिए जाने जाने वाले भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों से इतर यदि कोई आईएएस अधिकारी खुले आसमान के नीचे केवल पलंग पर रात गुजार दे तो आप उसे क्या कहेंगे। चलिए अब बता भी देते हैं यदि यह पलंग शमशान में लगाया गया हो और इस अधिकारी के साथ केवल इसका गनमैन, कुछ और कर्मचारी हों तो फिर डर के मारे आपकी घिग्घी ही बंध जाएगी। मिली जानकारी के अनुसार यह हकीकत घटी मदुरै में जी हां, दरअसल यहां 16 हजार करोड़ रूपए के ग्रेनाईट घोटाले की जांच की जा रही थी। इस दौरान आईएएस अधिकारी यू सगायम को जांच का जिम्मा सौंपा गया। यह आईएएस अधिकारी इतना कर्तव्य निष्ठ निकला कि इसने शमशान में ही रात गुजार दी।

मिली जानकारी के अनुसार मद्रास उच्च न्यायालय ने सगायम को जांच के लिए न्यायिक कमिश्नर नियुक्त किया फिर क्या था सगायम ने घोटाले से जुड़े मामले में दफनाए गए शवों को बाहर निकाल दिया। जिससे इसकी फोरेंसिक जांच करवाई जा सकती है। मगर दफन किए गए शवों को निकाले जाने से पूर्व सगायम अपने दल के साथ मदुरै से सटे गांव के कब्रिस्तान में पहुंचे। मदुरै पुलिस और एडमिनिस्ट्रेशन ने कब्रों की खुदाई न हो सकने को लेकर अपनी बात कही। उन्होंने इस मसले पर सुबह के समय कार्य प्रारंभ करने को कहा।

मगर रात्रि में कब्रिस्तान में तथ्यों के परिवर्तन से बचने को लेकर उन्होंने संजीदगी का परिचय दिया और रातभर वहीं ठहरे रहे। उल्लेखनीय है कि मैसूर के ग्रेनाईट कारोबारी पीआर पलनिस्वामी पर आरोप है कि उसने रोजगार को बढ़ाने के लिए 12 लोगों की बलि दी। बलि देने के बाद शवों को इस कब्रिस्तान में दफना दिया गया। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -