मदर्स डे पर माँ का कराए मुँह मीठा, ये रेसिपी मिठास में लगा देगी चार चाँद

हर बच्चे के लिए मदर्स डे बहुत खास होता है. इस खास दिन को पूरी दुनिया में मई महीने के दूसरे इतवार को मनाया जाता है. वैसे मेरे लिए हर दिन मदर्स डे होता है. मैं जहाँ भी रहूं मुझे हर समय अपनी माँ का ध्यान आता है, मैं हमेशा ही अपनी मम्मी की लंबी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य की कामना करती हूँ. हालाँकि मैं उनके लिए ज़्यादा कुछ कर नही पाती हूँ.

मैं कोई लेखिका नही हूँ, बस अपनी भावनाओ को प्रकट कर रही हुं, ना ही मैं चित्रकार हूँ कि अपने मन को रंगों से व्यक्त कर सकूँ, मैं कवियित्रि भी नही हूँ कि अपने प्यार को शब्दों में लिख दूं. मैं एक बेटी हूँ, जो अपनी मां के बिना अधूरी है. क्योंकि संसार में माँ शब्द ही बहुत पवित्र होता है. एक माँ का प्यार ही है जो निश्चल होता है...

मदर्स दे के अवसर पर माँ की पसंद के कुछ ख़ास व्यंजन, जो कोई अपनी मां के लिए बनाकर उनके प्रति अपना प्यार व्यक्त कर सकता है. तो जानिए मैंगो फालूदा कुल्फी की बनाने की विधि....

सामग्री
(6-8 कुलफी के लिए)
दूध 1.5 लीटर/ 6 कप
शक्कर 3-4 बड़े चम्मच
आम का गूदा 1 कप
कटे आम के टुकड़े ½ कप
हरी इलायची 4
पिस्ता ¼ कप

बनाने की विधि :

1.हरी इलायची के छिलके उतारकर बीज को दरदरा कूट लें.

2.पिस्ता को लंबा-लंबा बारीक काट लीजिए.

3.एक भारी तली की कड़ाही में दूध मध्यम आँच पर उबालें, पहला उबाल आने के बाद आँच को धीमा कर दें.

4.पहले उबाल के बाद दूध को बीच-बीच में चलाते हुए इसके एक तिहाई बचने तक उबालिए. इस प्रक्रिया में लगभग डेढ़ घंटे का समय लगता है.

5.अब गाढ़े दूध में शक्कर, कुटी हुई इलायची और कटे पिस्ता डालें और अच्छे से मिलाएँ. आँच को बंद कर दीजिए और दूध को थोड़ा ठंडा होने दीजिए.

6.जब दूध थोड़ा ठंडा हो जाए तो इसमें आम का पल्प डालकर अच्छे से मिलाइए. अब इसमें बारीक कटे आम के टुकड़े डालें और अच्छे से मिलाएँ. गरम दूध में आम का गूदा/ पल्प ना डालें नही तो दूध फट सकता है.

7.अब इस कुल्फी के मिश्रण को कुल्फी के साँचे में डालिए. अगर आपके पास कुल्फी के साँचे नही हैं तो आप लौली  बनाने के सांचों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. अगर आपके पास इन दोनों में से कोई भी साँचे नही हैं तो आप प्लास्टिक के कंटेनर में कुल्फी जमाइए. कुल्फी को पूरी तरह जमने तक फ्रीज़र में रखिए.

8.कुल्फी को सांचों से निकालने के लिए एक कटोरे में गरम पानी भरें इसमें सांचों को 10-15 सेकेंड्स के लिए डुबोएँ. अब कुल्फी आसानी से बाहर निकल आएगी.

9.अगर आपने कंटेनर में कुलफी जमाई है तो इसे मन चाहे आकार में काट कर ऊपर से फालूदा डालकर परोसें. वैसे यह कुल्फी बिना फालूदा के भी बहुत स्वादिष्ट लगती है.

शिवराज सरकार का बड़ा ऐलान, मजदूरों से नहीं लिया जाएगा किराया, शासन उठाएगा खर्च

कौशाम्बी स्थित पटाखा फैक्ट्री में हुआ विस्फोट, तीन लोगों की दर्दनाक मौत

आठ राज्यों में फंसे मजदूरों को वापस लाने के लिए शिवराज ने केंद्र सरकार से मांगी 31 ट्रेनें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -