Hindi Diwas 2018 : इन फिल्मों ने रखी थी हमारी मातृभाषा की लाज

Hindi Diwas 2018 : इन फिल्मों ने रखी थी हमारी मातृभाषा की लाज

हर साल 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है. हिंदी हमारी मातृभाषा है और इसकी महत्ता को बढ़ाने के लिए इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है. हिंदी दिवस के विशेष अवसर पर हम आपको कुछ ऐसी बॉलीवुड फिल्मों के बारे में बता रहे हैं जिसमें हिंदी को विशेष महत्त्व दिया गया है. आइये जानते हैं इन फिल्मों के बारे में-

इंग्लिश विंग्लिश

साल 2015 में आई फिल्म 'इंग्लिश विंग्लिश' में बॉलीवुड की दिवंगत अदाकारा श्रीदेवी नजर आईं थीं. इस फिल्म के जरिए हिंदी के मजबूत पक्ष को दिखाने को कोशिश की गई थी. इस फिल्म में एक ऐसी महिला की कहानी को दिखाया गया है जो विदेश में जाकर इंग्लिश भाषा बोलने में डगमगाती थी. ऐसी स्थिति में उनके बच्चे स्कूल में होने वाली मीटिंग में भी ले जाने में शर्मिंदगी महसूस करते थे.

हिंदी मीडियम

साल 2017 में आई फिल्म 'हिंदी मीडियम' में भी हिंदी भाषा पर बल दिया गया था. इस फिल्म में इरफ़ान खान ने लीड किरदार निभाया था और उनके साथ पाकिस्तानी एक्ट्रेस सबा कमर भी मुख्य किरदार में नजर आईं थी. फिल्म में दिखाया गया है कि इरफ़ान खान थोड़े कम पीढ़ी-लिखे होते हैं और अपने बच्चों का स्कूल में अड्मिशन करवाने के लिए इधर-उधर भटकते ही रहते हैं. इस फिल्म में भी इरफ़ान एक ऐसे व्यक्ति के किरदार में थे जिन्हे अंग्रेजी बोलना ठीक से नहीं आती थी. फिर भी वो मेहनत करके अपने बच्चो को स्कूल में अड्मिशन दिलवा ही देते हैं.

नमस्ते लंदन

साल 2007 में आई फिल्म 'नमस्ते लंदन' में भी हिंदी भाषा की महत्वता और हमारे देश की सभ्यता को दर्शाया गया है. इस फिल्म में अक्षय कुमार हिंदी भाषा और सभय्ता के लिए विदेशी लोगों को करारा जवाब देते हुए नजर आते हैं. इस फिल्म में अक्षय ने ऐसा भाषण दिया है जिसे सुनकर किसी भी भारतीय का सिर गर्व से ऊंचा हो जाए.

गोलमाल

साल 1979 में आई फिल्म 'गोलमाल' में भी हिंदी भाषा का महत्त्व बताया गया है. इस फिल्म ने खूब नाम कमाया है और तारीफे भी बटोरी है. फिल्म में अमोल पालेकर ने लीड रोल निभाया था. हिंदी भाषा की दुर्दशा और बेकद्री को इस फिल्म में विशेष तौर से दिखाया गया है. इस फिल्म में अमोल के साथ उत्पल दत्त, बिन्दिया गोस्वामी, दीना पाठक, ओम प्रकाश, युनुस परवेज भी लीड रोल में नजर आए थे.

चुपके-चुपके

साल 1975 में आई फिल्म 'चुपके-चुपके' जो हमारी मात्रा भाषा हिंदी के ही इर्द-गिर्द घूमने वाली फिल्मों में से एक है. ये भले ही कॉमेडी फिल्म हो लेकिन इसमें हिंदी भाषा को काफी अच्छे से वर्णन किया गया है. इस फिल्म में धर्मेंद्र, शर्मिला टैगोर, अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और ओम प्रकाश मुख्य किरदार में नजर आए थे.

सलमान से फिल्म की भीख मांगने दुबई पहुंची ये मशहूर एक्ट्रेस!!

SOTY 2 के किसिंग सीन को लेकर बोले टाइगर श्रॉफ

रिलीज़ से पहले ही '2.0' ने तोडा 'बाहुबली' का रिकॉर्ड

 

?