+

हिमाचल के मुख्यमंत्री ने कहा- 'आधुनिकता की दौड़ में संस्कार को बचाएं'...

हिमाचल के मुख्यमंत्री ने कहा- 'आधुनिकता की दौड़ में संस्कार को बचाएं'...

शिमला: अभी कुछ समय पहले ही महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह के उद्घाटन समारोह में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि आधुनिकता के दौड़ में संस्कार को बचाए रखना जरूरी है. वहीं इस दौड़ में हम अपनी संस्कृति और संस्कार से कटते जा रहै हैं. कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित जयराम ठाकुर ने कहा कि महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद इस दिशा में बेतहर काम कर रहा है. संस्कारयुक्त शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है.

यूपी के सीएम योगी ने कहा- यह आयोजन नहीं अनुशासन का पर्व है: सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अध्यक्षीय संबोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह महज आयोजन नहीं बल्कि अनुशासन को पर्व है. यह समाज के सामने अपनी प्रतिभा प्रस्तुत करने का मंच भी है. इससे सभी को प्रेरणा लेने की जरूरत हैं. योगी ने कहा की जिस तरह से छोटी छोटी बूंद मिलकर घड़ा भरता है, नदियां बहती है, विशाल समुद्र बनता है, उसी तरह से छोटी-छोटी सीख बेहतर और संस्कारशील जीवन का निर्माण करती हैं.

सीखने की कोई सीमा नहीं होती है: हम आपको बता दें कि जीवन की छोटी से छोटी घटना भी संगठित होकर प्रेरक बन जाती हैं. सीखने की कोई समय सीमा नही होती. हर घटना हमें सीख देकर जाती है. मुख्यमंत्री ने बच्चों को होड़ की बजाय स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की सीख दी. हिमाचल प्रदेश की बेहतरीन भौगोलिक स्थिति की चर्चा करते हुए कहा कि वह भारत के मुकुट की तरह है. वहां की उच्च स्तरीय साक्षरता, राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्धता और विपरीत परिस्थितियों का मुकाबला करने की क्षमता सभी के लिए प्रेणादायी होगा. दोनों मुख्यमंत्रियों के संबोधन के बाद भव्य शोभायात्रा निकली, जिसमें परिषद के चार दर्जन शिक्षण संस्थानों ने हिस्सा लिया.

JNU sedition case: दिल्ली हाई कोर्ट ने उठाया बड़ा कदम, सरकार को दिया महत्वपूर्ण निर्देश

पी.चिदंबरम की जमानत को कांग्रेस ने बताया सत्य की जीत, संबित पात्रा ने कसा तंज

पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला के फार्महाउस पर अचानक पहुंची ईडी की टीम, भारी सुरक्षा के बीच उठाया बड़ा कदम