'भाजपा से मिले हुए हैं कमलनाथ..', कहने वाले कांग्रेस नेता अलोक शर्मा को हाईकमान का कारण बताओ नोटिस

'भाजपा से मिले हुए हैं कमलनाथ..', कहने वाले कांग्रेस नेता अलोक शर्मा को हाईकमान का कारण बताओ नोटिस
Share:

भोपाल: अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) ने आज गुरुवार (18 जनवरी) को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए कांग्रेस प्रवक्ता आलोक शर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने अपने ऑफिशियल एक्स हैंडल पर नोटिस की कॉपी शेयर करते हुए लिखा है, 'मध्य प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ अनर्गल, निराधार, आपत्तिजनक और अमर्यादित बयान देने के लिए कांग्रेस प्रवक्ता आलोक शर्मा को नोटिस जारी किया गया है।'

AICC ने शर्मा के बयान को अनधिकृत, निराधार, अपमानजनक और पार्टी और नेतृत्व को कमजोर करने का घृणित प्रयास करार दिया है। उसने अपने नोटिस में लिखा है कि, "महासचिव संचार के निर्देशानुसार, आपको (आलोक शर्मा) प्राइम-टाइम समाचार बहसों में राष्ट्रीय मीडिया पैनलिस्ट के रूप में कार्य करते हुए दिए गए आपके बयानों के संबंध में नोटिस दिया जा रहा है। ये बयान एक से आ रहे हैं। आप जैसे वरिष्ठ पदाधिकारी न केवल अनधिकृत, आधारहीन और मानहानिकारक हैं, बल्कि पार्टी और आपके वरिष्ठ सहयोगियों को कमजोर करने का प्रयास भी प्रदर्शित करते हैं।''

नोटिस में आगे लिखा गया है कि, 'भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य होने के नाते, आप जानते हैं कि पार्टी का अनुशासन पवित्र है और इसके किसी भी उल्लंघन के गंभीर परिणाम होते हैं। इसलिए, आपको (शर्मा को) नोटिस दिया जाता है और इस नोटिस की प्राप्ति से दो दिन का समय दिया जाता है। अपने बयानों पर अपना स्पष्टीकरण प्रदान करें।' आगे कहा गया है कि यदि स्पष्टीकरण प्राप्त नहीं हुआ है या असंतोषजनक है, तो शर्मा के खिलाफ उचित कार्रवाई शुरू की जाएगी।  उल्लेखनीय है कि, कांग्रेस नेता अलोक शर्मा ने कमलनाथ पर भाजपा के साथ मिलीभगत का आरोप लगाया था और यह भी कहा कि यह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की गलती थी कि उस व्यक्ति (नाथ) की पहचान नहीं की गई। हाल ही में संपन्न मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों में, राज्य की 230 सीटों में से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 163 सीटें जीतीं, जबकि कांग्रेस पार्टी ने 66 सीटें और भारतीय आदिवासी पार्टी ने एक सीट जीती थी।

22 जनवरी को देशभर के सरकारी दफ्तरों में आधे दिन की छुट्टी ! राम मंदिर कार्यक्रम के चलते केंद्र सरकार ने किया ऐलान

बंगाल पुलिस ने कालीघाट समिति को नहीं दी राम मंदिर कार्यक्रम के लाइव टेलीकास्ट की अनुमति, कोलकाता हाई कोर्ट तक पहुंची बात

'मुझे अरेस्ट करना चाहती है भाजपा, ताकि मैं लोकसभा चुनाव का प्रचार न कर सकूँ..', केजरीवाल ने चौथे नोटिस को भी किया नज़रअंदाज़, जाएंगे गोवा !

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -