अब खुलेगा हेलीकॉप्टर हादसे का राज, मिला ब्लैक बॉक्स और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर

भारतीय वायुसेना का Mi17 हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया है। इस दुर्घटना में भारत के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत 13 लोगों की मौत हो चुकी है। आपको बता दें कि अब इस हादसे के कारणों को जानने के लिए हेलीकॉप्टर के ब्लैक बॉक्स और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर को बरामद कर लिया गया है। जी दरअसल ब्लैक बॉक्स और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर की जांच के बाद ही हादसे के असल कारणों का पता चल सकता है।

आप सभी को बता दें कि आज विंग कमांडर आर। भारद्वाज के नेतृत्व में वायु सेना के अधिकारियों की 25 विशेष टीम ने ब्लैक बॉक्स बरामद कर लिया है और अब फोरेंसिक टीम जांच शुरू करने वाली है। कहा जा रहा है तलाशी का दायरा बढ़ाते हुए सेना की टीम सुबह से ही तलाशी अभियान चला रही थी। आइए जानते हैं क्या होता है ब्लैक बॉक्स- ब्लैक बॉक्स हेलीकॉप्टर की अंतिम उड़ान स्थिति और अन्य पहलुओं के बारे में डेटा बताने वाला है। वैसे तो इसे ब्लैक बॉक्स कहा जाता है, लेकिन उड़ान डेटा रिकॉर्डर को चमकीले नारंगी रंग में रंगा जाता है और यह उड़ान डेटा और कॉकपिट में होने वालीं बातचीत को रिकॉर्ड करता है।

आप सभी को बता दें कि हेलिकॉप्टर के अवशेषों की आगे की फोरेंसिक जांच से यह भी जानकारी मिलती है कि क्या दुर्घटना के बाहरी कारण थे। इसी के साथ ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, वेलिंगटन, तमिलनाडु में डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज में डायरेक्टिंग स्टाफ भी उड़ान के बारे में प्रत्यक्ष जानकारी प्रदान कर सकते हैं। आपको हम यह भी जानकारी दे दें कि करीब 80 फीसदी जलने के बाद भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का वेलिंगटन के सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है।

सलमान-विवेक ने जताया जनरल बिपिन रावत के निधन पर दुःख

सामने आया क्रैश से पहले का वीडियो, चिल्लाते दिखे लोग

CDS ही नहीं देश के इन ‘हीरो’ ने भी गंवाई जान, किसी का होने वाला था प्रमोशन, तो कोई होने जा रहा था रिटायर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -