कांग्रेस में शामिल होंगे हार्दिक पटेल, लेकिन चुनाव लड़ने में कानूनी अड़चन

कांग्रेस में शामिल होंगे हार्दिक पटेल, लेकिन चुनाव लड़ने में कानूनी अड़चन

अहमदाबाद: पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने रविवार को कहा है कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की उपस्थित में 12 मार्च को पार्टी का दामन थामेंगे। कांग्रेस 12 मार्च को यहां अपनी कार्य समिति की बैठक होने वाली है, जिसके बाद कांग्रेस, गांधीनगर के अदालाज में एक रैली निकालेगी।  हालांकि, पटेल की लोकसभा चुनाव लड़ने की योजना तभी सफल हो पाएगी, जब वे कानूनी समस्याओं को पार कर लेंगे।

लोकसभा चुनाव: यूपी का चुनावी घमासान, जानिए कब होगा आपके शहर में मतदान

उल्लेखनीय है कि निर्वाचन आयोग ने रविवार शाम को लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरणों में कराने का ऐलान किया है। जिसकी मतगणना 23 मई को होगी। इससे पहले पटेल को 2015 के पाटीदार आंदोलन से सम्बंधित एक दंगे के मामले में अदालत ने दोषी करार देते हुए दो साल जेल की सजा सुनाई गई थी। यह (दोषसिद्धि और दो साल या इससे ज्यादा की सजा) हार्दिक पटेल को चुनाव लड़ने से प्रतिबंधित करती है। पटेल ने रविवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘समाज और देश की सेवा करने के अपने उद्देश्य को साकार करने के लिए मैंने 12 मार्च को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस के अन्य दिग्गज नेताओं की उपस्थिति में पार्टी शामिल होने का निर्णय लिया है।’’ 

लोकसभा चुनाव: पांच सीटों वाले उत्तराखंड में इस तारीख को होगा मतदान

एक अन्य ट्वीट में हार्दिक ने कहा है कि,‘मैं यह भी कहना चाहता हूं कि यदि कोई कानूनी बाधा नहीं आई और कांग्रेस ने मुझे चुनाव में उतारने का निर्णय लिया तो मैं पार्टी के फैसले का पूरी तरह पालन करूंगा। मैं भारत की 125 करोड़ जनता की सेवा करने के लिए यह कदम उठा रहा हूं।’ गौरतलब है कि गत वर्ष जुलाई में मेहसाना जिला की एक सत्र अदालत ने पटेल को दंगा और आगजनी से सम्बंधित एक मामले में दो वर्ष की कैद की सजा सुनाई थी। हालांकि निचली अदालत के इस फैसले के खिलाफ पटेल ने गुजरात हाई कोर्ट में अर्जी लगा रखी है।

खबरें और भी:-

 

भाजपा नहीं चाहती अल्पसंख्यक करें मतदान, लेकिन हम रोज़ा रखकर भी डालेंगे वोट - टीएमसी नेता

बिहार: NDA बनाम महागठबंधन का चुनावी रण, सातों चरणों में होगा मतदान

पीएम मोदी ने दी सभी सियासी दलों को आम चुनाव की शुभकामनाएं