स्तनपान को लेकर सरकार बना रही नई नीति

Sep 27 2015 04:20 PM
स्तनपान को लेकर सरकार बना रही नई नीति

नई दिल्ली : आज कल महिलाओं द्वारा नवजात बच्चों को जल्दी ही स्तनपान से दूर कर दिया जाता है. इसलिए सरकार जल्द ही छोटे बच्चों को स्तनपान करवाने की एक राष्ट्रीय कार्य योजना तैयार करने वाली है. इस योजना के अन्तर्गत महिलाओं में स्तनपान को बढ़ावा दिया जाएगा. इसके अलावा सरकार सार्वजनिक जगहों पर स्तनपान के लिए अलग से जगह बनाने की योजना भी बना सकती है. बता दे कि हाल ही में करीब पांच साल बाद राष्ट्रीय परिचालन समिति की बैठक हुई. इस बैठक में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने विभिन्न संगठनों, विभागों और मंत्रालयों से योजना का मसविदा तैयार करने के लिए सुझाव मांगे है.

इस बारे में मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि, "अब तक इस बारे में कुछ नहीं किया गया, लेकिन अब इस मुद्दे को उठाना जरुरी है. हमने इस बारे में विभिन्न संगठनों, विभागों और मंत्रालयों से सुझाव मांगे है." खबर है कि यह योजना साल के अंत में लागू हो जाएगी. स्वास्थ्य मंत्रालय के सर्वेक्षण के अनुसार,केवल 21 प्रतिशत महिलाऐं शुरूआती छह माह तक विशेष स्तनपान करवाती है, जब कि 79 प्रतिशत महिलाऐं छह माह की उम्र में बच्चों को पूरक दुग्धपान देना शुरू कर देती है.

ऐसे में मंत्रालय ने जागरूकता अभियान शुरू करने का फैसला किया है. इसके तहत मंत्रालय महिलाओं को परामर्श देने के लिए नर्स या समर्पित कर्मचारी नियुक्त करेगी. इसके अलावा मीडिया के जरिए जागरूकता कार्यक्रम भी चलाया जाएगा, वहीँ आंगनवाड़ी और आशा कर्मचारियों को भी इस अभियान में शामिल किया जाएगा.