बुलन्दशहर मामला: अगर जीतू के खिलाफ सबूत तो उसे पुलिस को सौंप देंगे- बिपिन रावत

Dec 08 2018 02:28 PM
बुलन्दशहर मामला: अगर जीतू के खिलाफ सबूत तो उसे पुलिस को सौंप देंगे-  बिपिन रावत

नई दिल्ली: पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने कबूला कर लिया है कि मुंबई आतंकी हमले के पीछे लश्कर के आतंकियों का हाथ था, लेकिन भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत का कहना है कि सभी को पता है कि मुंबई आतंकी हमला किसके द्वारा किया गया था.  साथ ही उन्‍होंने बुलंदशहर हिंसा मामले में भी जितेंद्र मलिक के मुद्दे पर यूपी पुलिस का पूरा सहयोग करने की बात कही.

पेट्रोल-डीज़ल : खुशियों पर लगेगा ब्रेक, नए साल में महंगा होगा पेट्रोल-डीज़ल

बुलंदशहर हिंसा मामले में सेना के जवान जितेंद्र मलिक (जीतू फौजी) का नाम आने के सवाल पर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि अगर सबूत होगा और पुलिस उन्हें संदिग्ध मानेगी तो हम उन्हें पुलिस के सामने पेश कर देंगे. हम पुलिस के साथ पूरा सहयोग देने को तैयार हैं.' वहीं सूत्रों के अनुसार उत्‍तर प्रदेश पुलिस देर शाम तक जितेंद्र मलिक को बुलंदशहर में ला सकती है, उसने अपनी रेजिमेंट को कहा कि वह हिंसा में शामिल नहीं था.

पेट्रोल-डीज़ल : आज फिर गिरे दाम, जानिए महानगरों में क्या है भाव

सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर दिए गए लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा के बयान पर टिप्‍पणी करते हुए सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा कि मुझे लगता है कि सर्जिकल स्ट्राइक पर बहुत ज्यादा जोर दिया जा रहा है. जहां तक डीएस हुड्डा के बयान की बात है, तो यह उनके निजी विचार हैं, इसलिए उन पर मुझे कुछ नहीं कहना चाहिए. वे इस ऑपरेशन से जुड़े मुख्य अफसरों में से एक थे, इसलिए मैं उनके शब्दों का काफी सम्मान करता हूं.

खबरें और भी:-

 

इंडिगो बनी 200 एयरक्राफ्ट वाली देश की पहली कंपनी

इंडियन रेलवे की बड़ी कामयाबी, इस एक तकनीक को बदल कर की करोड़ों की बचत

भारत के खिलाफ लोगों को भड़काने के लिए इस देश की मीडिया को मिल रही है मोटी रकम