इन चीजों के बगैर अधूरी मानती जाती है गणेश पूजा

Sep 06 2018 10:03 AM
इन चीजों के बगैर अधूरी मानती जाती है गणेश पूजा

जल्द ही आपको गली मोहल्ले में 'गणपति बाप्पा मोरिया' की गूंज सुनाई देगी. भगवान गणेश जी के आने से पूरे देशभर में जश्न का माहौल रहेगा और हर वर्ष की तरह इस बार भी गणेश उत्सव बड़े धूम धाम से मनाया जायेगा. खास बात यह है कि गणेश की प्रतिमा की तैयारी बहुत पहले से शरू हो चुकी हैं और अब भक्तगण सिर्फ झांकियों को तैयार करने में जुटे हुए हैं.

सुख समृद्धि चाहते हैं गणेश चतुर्थी पर करें इन मंत्रों का उच्चारण

इस वर्ष 13 सितंबर को देशभर में गणेश चतुर्थी का त्योहार बड़ी धूम-धाम के साथ मनाया जाएगा. इस दिन का इन्तजार लोग बड़ी बेसब्री से करते और अब जल्द ही यह दिन दस्तक देने वाला है. गणेश जी की पूजा सारे देवताओं से पहले की जाती हैं यही नहीं बल्कि देवता खुद भी बगैर गणेश पूजा किए अपने कामों की शुरुआत नहीं करते हैं. आज हम आपको बताने जा रहे हैं गणेश पूजा में क्या सामग्री जरुरी हैं.

सपने में अगर आ जाये यमराज तो ये होता है अर्थ

जरुरी सामग्री :

हिन्दू धर्म के अनुसार गणेश पूजा का खास महत्व बताया गया हैं इसलिए गणेश पूजा के दौरान कई सारी बातों का ख्याल रखना पड़ता हैं. पूजा के दौरान शुद्ध जल, दूध, दही, शहद, घी, चीनी, पंचामृत, वस्त्र, यज्ञोपवीत, सुगंध, लाल चंदन, रोली, सिंदूर, गंगाजल, पान, सुपारी, रूई, कपूर, अक्षत, पुष्प, माला, दूब, शमीपत्र, जनेऊ, गुलाल, आभूषण, धूपबत्ती, दीपक, प्रसाद, फल, पवित्र धागा, अगरबत्ती, हरी घास, शुद्ध और मोदक लड्डू, दीप-धूप भी जलाएं. शास्त्रों के अनुसार भगवान गणेश को सिंदुर का तिलक लगाना बेहद शुभ माना गया हैं. सिंदूर को गणेश जी को पूरे शरीर पर वस्त्रों के तौर पर लगाया जाता है इसे चोला भी कहा जाता हैं.

ये भी पढ़े

जानिए कितने बुलंद हैं आज आपकी किस्मत के सितारे

6 सितम्बर को है अजा एकादशी जानें पूजा का शुभ मुहूर्त

जानिए क्या है कुशग्रहणी अमावस्या का महत्व

 

?