JEE Main में फर्जीवाड़ा, अचानक पड़ी CBI की रेड से मचा हड़कंप

नई दिल्ली: इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए आयोजित होने वाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आयोजन में कथित अनियमितताओं की कंप्लेन पर रविवार को CBI ने दिल्ली सहित देश भर में 20 स्थानों पर छापेमारी की। केस में कथित अनियमितताओं को लेकर CBI ने एफिनिटी एजुकेशन प्राइवेट लिमिटेड तथा उसके निदेशकों के विरुद्ध मुकदमा दायर किया है। 

वही इस केस में CBI के प्रवक्ता आर सी जोशी ने कहा कि CBI ने संस्थान, संस्थान के निदेशकों, सहयोगियों-दलालों तथा एग्जाम सेंटर में तैनात कर्मचारियों व अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि मामले में संलिप्त व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर दिल्ली-एनसीआर के अतिरिक्त पुणे, जमशेदपुर सहित तमाम शहरों में रेड की गई है।

वहीं केस में CBI का कहना है कि नोएडा मौजूद एफिनिटी एजुकेशन प्राइवेट लिमिटेड के निदेशकों ने जेईई मेन में बेहतर रैंकिंग दिलाने का एक पूरा सिस्टम रेडी कर लिया था। इनके एजेंट भारत के कई प्रदेशो में फैले हैं। ये एजेंट जेईई मेन में कम रैंकिंग वाले विद्यार्थियों से कांटेक्ट कर उन्हें बेहतर रैंकिंग तथा टॉप एनआइटी संस्थान में नामांकन का विश्वास दिलाते थे। इसके एवज में 12 से 15 लाख रुपये की मांग करते थे। बता दें कि NTA की ओर से जेईई मेंस की परीक्षा देशभर के तमाम एग्जाम सेंटर पर 26 अगस्त से 2 सितंबर तक आयोजित की गई थी। कहा जा रहा है कि एग्जाम की 'आंसर की' आधिकारिक पोर्टल पर कल मतलब कि 4 सितंबर को जारी की जा सकती है।

योगी सरकार का बड़ा फैसला - यूपी में सभी शिक्षकों और स्कूल कर्मचारियों को वैक्सीन लगवाना हुआ अनिवार्य

6 सितंबर से MP में फिर होगी जोरदार बारिश, भोपाल, इंदौर समेत कई इलाके होंगे लबालब

नॉर्दर्न एलायंस ने मार गिराए तालिबान के 40 आतंकी, गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजी पंजशीर घाटी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -