निर्वस्त्र कर पीटे जाने पर तंजानियाई युवती ने कहा, अब हर भारतीय को देखकर डर लगता है

Feb 04 2016 10:28 AM
निर्वस्त्र कर पीटे जाने पर तंजानियाई युवती ने कहा, अब हर भारतीय को देखकर डर लगता है

बेंगलुरू : एक विदेशी छात्रा के साथ बेंगलुरू में मारपीट किए जाने और उसे निर्वस्त्र किए जाने का मामला सामने आया है। दरअसल सड़क दुर्घटना के कारण इस लड़की पर भीड़ का आक्रोश फूट पड़ा। गुस्साई भीड़ ने छात्रा को पीट दिया। उसके वस्त्रों को भी निकाल दिया गया। इस घटना के बाद लड़की डर गई। बाद में उसने पुलिस में प्रकरण दर्ज करवाया। यह 21 वर्षीय युवती तंजानिया की थी। लड़की इस घटना से डरी हुई थी। 

उसने घटना को लेकर कहा कि अब उसे प्रत्येक भारतीय को देखकर डर लगने लगा है। इस मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया। अब आरोपियों की तलाश की जा रही है। इस दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा ने घटना को लेकर खेद जताया है। उनका कहना था कि इस घटना के वीडियो देखकर उन्हें दुख हुआ है। इस मामले में उन्होंने कर्नाटक के मुख्यमंत्री से फोन पर चर्चा की।

जानकारी के अनुसार बैंगलुरू में कल शाम 7 बजे एक तेज रफ्तार से आ रही कार से एक 35 साल की महिला की कुचलने से मौत हो गयी थी। उसके बाद वहां जमा 200 से 300 लोगों की भीड़ ने गलत पहचान के कारण तंजानिया की एक लड़की पर अपनी बर्बरता दिखाई। उसके कपड़े फाड़ दिए और उसकी कार को आग के हवाले कर दिया।

उग्र भीड़ ने उसे बार-बार पीटते हुए उसके कपड़े फाड़कर नग्नावस्था में उसकी परेड करवाई। लड़की जब बुरी तरह से घायल हो गई, तब वह क्षेत्र से गुजरने वाली बीएमसीटी बस में चढ़ने का प्रयत्न करने लगी तो बस में सवार यात्रियों ने उसे धकेल दिया और फिर हिंसक भीड़ के हवाले कर दिया।

इस घटना के दौरान पुलिस खामोश रही। लड़की की कार को भीड़ ने जला दिया। उसकी कार में आवश्यक दस्तावेज, एटीएम कार्ड और नकद रूपए भी थे। इस लड़की और उसके साथ करीब 4 लोगों को अस्पताल में भी जगह नहीं मिली उन्हें अस्पताल से भी बाहर कर दिया गया। इस तरह की घटना के बाद अफ्रीकी मूल का समुदाय न्याय की मांग करने लगा। इस केस से जुड़े पाँचों आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.