कोरोना की तीसरी लहर के बीच ब्लैक फंगस की एंट्री, यूपी में मिला पहला केस

कानपुर: कोरोना संक्रमित ब्लैक फंगस का पहला मामला सोमवार को हैलट में एडमिट हुआ है। मरीज की एक आंख और नाक में संक्रमण फैला हुआ है। बता दें कि कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमण के साथ ब्लैक फंगस का यह पहला केस है। वैसे ब्लैक फंगस के इक्का-दुक्का मरीज पूरे साल अस्पताल में आया करते हैं। फिलहाल, कोरोना संक्रमित छह रोगी हैलट और दो कांशीराम में एडमिट हैं।

GSVM मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. संजय काला ने जानकारी दी है कि 45 साल के रोगी कैंट क्षेत्र के निवासी हैं। उन्हें डायबिटीज भी है। रोगी की आंख में समस्या है। जांच में यह कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। माना जा रहा है कि डायबिटीज के कारण उन्हें ब्लैक फंगस जल्दी हो गया। मरीज को ब्लैक फंगस वार्ड में एडमिट करके उपचार शुरू कर दिया गया है। अभी हैलट में कोरोना पॉजिटिव कोई भी मरीज वेंटिलेटर पर नहीं है। दो मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। एक रोगी को हेपेटाइटिस है।

कानपुर में कोरोना संक्रमण का फैलाव एक के बाद दूसरे मोहल्ले को अपनी चपेट में ले रहा है। संक्रमित मरीजों की तादाद बढ़ रही है, तो तेजी के साथ रिकवर भी हो रहे हैं। IIT, GSVM मेडिकल कॉलेज और दूसरे शिक्षण संस्थानों सहित कोरोना का संक्रमण विभिन्न क्षेत्रों में फैलता जा रहा है। यहां लगातार कोरोना मरीज मिल रहे हैं।

FIH ने पेनल्टी कार्नर के लिए बनाए नए रूल्स

फ्रेंच नेशनल असेंबली ने वैक्सीन पास कानून अपनाया

हरियाणा में छाया रहेगा घना कोहरा, कई जिलों में शीतलहर का अलर्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -