ड्रोन हमले में मंसूर के साथ मारे गए चालक के परिजनों ने अमेरिका पर किया केस

May 30 2016 11:24 AM
ड्रोन हमले में मंसूर के साथ मारे गए चालक के परिजनों ने अमेरिका पर किया केस

कराची : अमेरिका द्वारा किए गए ड्रोन हमले में मारा गया अफगान तालिबान प्रमुख मुल्ला मंसूर के साथ मारे गए ड्राइवर के परिजनों ने अमेरिकी सरकार के खिलाफ पुलिस कंप्लेंट दर्ज कराई है। मंसूर और मोहम्मद आजम उस समय मारे गए थे। जब अमेरिकी विशेष बलों ने एक ड्रोन विमान से बलूचिस्तान प्रांत के नोशकी जिले में उनके वाहन को निशाना बनाया था। वे लोग सड़क मार्ग के जरिए ईरान से लौट रहे थे।

एक सीनियर पुलिस ऑफिसर ने बताया कि आजम के भाई मोहम्मद कासिम ने नोशकी जिले के थाने में रपट लिखाई है। उसके भाई द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी में लिखा गया है कि आजम कोई आतंकी नहीं था। वो चार बच्चों का पिता था और घर में कमाने वाला एकमात्र सदस्य। उधर पाकिस्तान का कहना है कि डीएनए जांच से पता चलता है कि बलूचिस्तान प्रांत में मारा गया व्यक्ति मंसूर ही था।

गृह मंत्रालय ने कहा कि अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे गए दो लोगों में से एक का डीएनए नमूना मंसूर के निकट रिश्तेदार के डीएनए से मेल खाता है। मंत्रालय द्वारा जारी किए गए बयान में कहा गया कि ड्रोन हमले में मारे गए दूसरे व्यक्ति की भी पहचान हो गई है। मंसूर के शव को लेने के लिए उसका एक रिश्तेदार अफगानिस्तान से आया था।