इस वजह से दीपक को रजत पदक से करना पड़ा संतोष

Feb 28 2021 03:12 PM
इस वजह से दीपक को रजत पदक से करना पड़ा संतोष

इंडियन मुक्केबाज दीपक कुमार को बुल्गारिया के सोफिया में 72वें स्ट्रैंडजा मेमोरियल टूर्नामेंट के फ्लाइवेट (52 भारवर्ग) के फाइनल में हार के उपरांत  रजत पदक से संतोष व्यक्त करना पड़ा। एशियाई रजत पदक विजेता दीपक का फाइनल में मेजबान देश के डेनियल अर्सेनोव के साथ बराबरी से मुकाबला किया। 

वहीं दो बार के यूरोपियन चैंपियन अर्सेलोन ने बंटे हुए निर्णय के साथ जीत प्राप्त की। रिपोर्ट्स दीपक ने सेमीफाइनल में मौजूदा ओलंपिक और विश्व चैंपियन शाखोबिदिन जोइरोव पर उलटफेर भरी जीत प्राप्त की थी। सेना में नायब सुबेदार ने दूसरे राउंड में अच्छी रक्षण टेक्नीकली का प्रदर्शन किया था।

लेकिन जजों ने मेजबान मुक्केबाज के पक्ष में निर्णय दिया। हम बता दें किनवीन बूरा (69) को सेमीफाइनल में हार के बाद कांस्य पदक मिला। उन्हें उज्बेकिस्तान के बोबो उस्मान ने हराया। 

भारत के विरुद्ध खेलेंगी साउथ अफ्रीका की महिला क्रिकेट टीम

गर्भवती को खाट पर पहुंचाया अस्पताल, इलाज न मिलने के कारण महिला-नवजात की हुई ये दुर्दशा

क्या वनमंत्री संजय राठौड़ देंगे इस्तीफा? जानिए क्या है पूरा सच