क्या आप भी परेशान है कम सुनाई देने की समस्या से

क्या आप भी परेशान है कम सुनाई देने की समस्या से

आधुनिक जीवन में आने वाले परिवर्तन विशेष रूप से इयरफोन पर लगातार सुने जाने वाले संगीत के कारण लोगों में सुनने की क्षमता कम होती जा रही है लेकिन अपनी दिनचर्या में संतुलित आहार को शामिल कर इस समस्या को रोका जा सकता है.

1-एंटीऑक्सीडेंट का नियमित सेवन, विशेष रूप से पालक, शतावरी, सेम, ब्रोकोली, अंडे, जिगर या नट्स में पाया जाने वाला फोलिक एसिड सुनने की क्षमता की हानि के जोखिम को कम करते हैं. एंटीऑक्सीडेंट कान के भीतरी ऊतकों को नुकसान पहुंचाने वाले मुक्त कण को रोकने में मदद करता है. 

2-नट, विशेष रूप से बादाम, काजू और मूंगफली, साथ ही दही, आलू और केले मैग्नीशियम के बहुत अच्छे स्रोत है. अध्ययन के अनुसार, यह सुनने की क्षमता कम होने का आम प्रकार यानी शोर प्रेरित सुनने की हानि (एनआईएचएल) को रोकने में मदद करता है.  

3-आप जिंक की स्वस्थ खुराक लेकर, उम्र के कारण होने वाले सुनने की क्षमता में कमी को आसानी से रोक सकते हैं. यह कानों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है. जिंक समुद्री भोजन जैसे कस्तूरी, केकड़ा और झींगा और साथ ही पनीर और डार्क चॉकलेट में पाया जाता है. 

4-एंटीऑक्सीडेंट की तरह विटामिन सी/ई मुक्त कणों की देखभाल करता है, और आपकी समग्र प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है. इस प्रकार से यह कान में होने वाले संक्रमण के जोखिम को कम करता है. यह विटामिन आपको आसानी से सब्जियों (जैसे शिमला मिर्च) और फल (जैसे संतरे) में मिल जायेगें. 

बेबीकोर्न करता है त्वचा की देखभाल