दिल्ली में बारिश ने तोड़ा 46 सालों का रिकॉर्ड, अब भी राहत मिलने के आसार नहीं

नई दिल्ली: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को कहा कि इस वर्ष अत्यधिक असामान्य मॉनसून के मौसम में दिल्ली में अब तक 1,100 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो पिछले 46 वर्षों में सबसे ज्यादा है और गत वर्ष दर्ज की गई बारिश से तक़रीबन दोगुनी है। शनिवार को दिल्ली में अधिक वर्षा की भविष्यवाणी के कारण यह आंकड़े बदल सकते हैं।

IMD के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि सफदरजंग वेधशाला ने 1975 के मॉनसून के मौसम में 1,150 मिमी बारिश का अनुमान जताया था। इस वर्ष, बारिश पहले ही 1,100 मिमी के निशान पर पहुंच गई है और यह सिलसिला अब भी जारी है। IMD के मुताबिक, आमतौर पर दिल्ली में मॉनसून के मौसम में 648.9 मिमी बारिश रिकॉर्ड की जाती है।

1 जून के बीच, जब मॉनसून का मौसम आरंभ होता है और 11 सितंबर के बीच शहर में सामान्य रूप से 590.2 मिलीमीटर बारिश होती है। दिल्ली से मॉनसून 25 सितंबर तक वापस चला जाता है। अधिकारी ने कहा कि आने वाले दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है। 17-18 सितंबर के आसपास एक और बारिश की संभावना है। 2003 में राजधानी में 1,050 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

काबुल के लिए विमान सेवा शुरू करेगा पाकिस्तान, बना फ्लाइट शुरू करने वाला पहला देश

सिर में गोली मारकर की गई थी त्रिलोचन सिंह की हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

भारतीय युवा कांग्रेस 17 सितंबर को मनाएगा 'राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -