दिल्‍ली से अगवा नाबालिग को आगरा ले गए और फिर...

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने हाल ही में एक चौकाने वाली घटना का खुलासा किया है। जी दरअसल दिल्ली पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए ऐसे आरोपियों को पकड़ा है, जिन्‍होंने पैसे के लालच में एक मासूम नाबालिग बच्ची को 60 हजार रुपये में बेच डाला। बताया जा रहा है दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के ज्वाइंट कमिश्नर आलोक कुमार ने इस बारे में जानकारी दी है। उनका कहना है उस नाबालिग लड़की को उत्तर प्रदेश के आगरा में बेचा गया।

खबरों के अनुसार उस नाबालिग लड़की को राजस्थान के सीकर इलाके से बरामद कर लिया गया है। वहीं इस मामले पर ज्वाइंट कमिश्नर आलोक कुमार का कहना है, 'जब तफ्तीश की गई तो पता चला कि राजस्थान के युवक को शादी के लिए लड़की नहीं मिल रही थी, तब उसने बिचौलियों से एक लड़की खरीदी थी जो कि दिल्ली से लापता हुई थी।' इस मामले में दिल्ली पुलिस की शालीमार बाग थाना पुलिस को हैदरपुर इलाके में रहने वाले एक पीड़ित परिवार के द्वारा शिकायत मिली थी कि उनकी 15 साल की बेटी उनके घर के पास से ही 16 अक्टूबर से लापता हो गई है। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम को इस केस को ट्रांसफर किया गया और उसके बाद एसीपी एसके गुलिया और इंस्पेक्टर अमलेश्वर राय के नेतृत्व में एक टीम का गठन करके उनके अंतर्गत हेड कांस्‍टेबल गोपाल कृष्ण, सिपाही विजय कुमार सहित कई जवानों को इस ऑपरेशन के लिए शामिल किया गया।

वहीं जांच में पता चला कि लापता लड़की अपने घर के आसपास ही रहने वाले नीरज सोनकर नाम के एक लड़के के साथ संपर्क में थी। उसके बाद यह, पता चला कि नीरज और दिल्ली के रोहिणी इलाके में रहने वाली मुस्कान नाम की लड़की के साथ लापता लड़की को कहीं जाते हुए देखा गया था। यह सब जानने के बाद क्राइम ब्रांच की टीम ने सारी खबर खंगाल डाली और लापता लड़की को सही सलामत आरोपियों के चंगुल से छुड़ा लिया।

बिकिनी में नजर आई 'क्रिस्टल डिसूजा', तस्वीरें देख फैंस के उड़े होश

पुलिस के अत्याचारों से न्याय पाने के लिए युवक ने लगाई श्री राम से गुहार

नहीं रहे पूर्व प्रधानमंत्री

Most Popular

- Sponsored Advert -