लालू यादव हाजिर हो!

पटना : 1994- 96 के बीच पशु पालन विभाग से धोखाधड़ी कर 46 लाख की अवैध निकासी के मामले में राजद प्रमुख लालू यादव, बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र सहित 31 आरोपियों को सीबीआई की विशेष अदालत ने शुक्रवार को हाजिर होने का फरमान जारी किया है.

पटना व्यवहार न्यायालय स्तिथ सीबीआई के विशेष अदालत न्यायाधीश देवराज त्रिपाठी ने 1994 से 96 के बीच भागलपुर और बांका जिला कोषागार से फर्जी विपत्रों के आधार पर पशु पालन विभाग से धोखाधड़ी, जालसाजी और सरकारी पद का दुरुपयोग कर 46 लाख रु.की अवैध निकासी के मामले लालू प्रसाद यादव, पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र सहित 31 आरोपियों को अदालत में हाजिर होने का निर्देश दिया है.

गौरतलब है कि सीबीआई ने 15 मई 1996 को प्राथमिकी दर्ज कर 21 अप्रैल 2003 को 44 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया.33 पर ट्रायल जारी है.आरोपितों में लालू प्रसाद यादव,जगन्नाथ मिश्र, विद्यासागर निषाद,ध्रुव भगत और आरके राणा सहित 33 के खिलाफ मामला साक्ष्य पर लंबित है.

यहाँ यह उल्लेख प्रासंगिक है कि करोड़ों के चारा घोटाले के एक अन्य मामले में झारखण्ड स्तिथ सीबीआई की एक अदालत द्वारा 5 साल के कारावास और 25 लाख के जुर्माने की सजा सुनाए जाने के बाद दिसम्बर 2013 में सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के बाद से  लालू जेल से बाहर हैं .

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -