अच्छी खबर! 18 राज्यों में घटे कोरोना के मामले, पंचकोणीय योजना ने निभाया अहम किरदार

May 11 2021 05:44 PM
अच्छी खबर! 18 राज्यों में घटे कोरोना के मामले, पंचकोणीय योजना ने निभाया अहम किरदार

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप निरंतर बना हुआ है। कई प्रदेशों में संक्रमण के केस रफ़्तार से बढ़ रहे हैं, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर बीते कुछ दिनों से निरंतर मामलों में कमी देखी जा रही है। इस बीच मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेस कर खबर दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि कोरोना के प्रतिदिन मामलों की संख्या कम से कम 18 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में घट रही है। उन्होंने बताया कि देश में 13 प्रदेश ऐसे हैं जहां 1 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं। इसके अतिरिक्त 6 प्रदेशों में 50,000 से 1 लाख के बीच और 17 प्रदेशों 50,000 से कम एक्टिव केस हैं।

उन्होंने कहा कि कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, पंजाब, असम, जम्मू तथा कश्मीर, गोवा, हिमाचल प्रदेश, पुदुचेरी, मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा, नागालैंड तथा अरुणाचल प्रदेश में प्रतिदिन कोरोना के नए मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। वहीं, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, झारखंड, तेलंगाना, चंडीगढ़, लद्दाख, दमन तथा दीव, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार में प्रतिदिन नए मामलों में गिरावट देखी जा रही है। इसके अतिरिक्त महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, छत्तीसगढ़, बिहार तथा गुजरात में भी प्रतिदिन नए केस कम आ रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 13 प्रदेशों में 1 लाख से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस हैं तथा 26 प्रदेश ऐसे हैं, जहां कोरोना का सकारात्मकता दर 15 प्रतिशत से ज्यादा है। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि महामारी की रोकथाम और बचाव के लिए केंद्र सरकार ने जो पंचकोणीय योजना बनाई है, उसमें टीकाकरण की महत्वपूर्ण भागेदारी है। यह पंचकोणीय रणनीति टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, कोविड आचरण और टीकाकरण है। केंद्र सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त कोविड वैक्सीन प्रदान करके पूरे भारत में टीकाकरण अभियान में हाथ बंटा रही है।

गाय के गोबर और गौमूत्र के उपयोग से नहीं होता है कोरोना? जानिए क्या कहते है एक्सपर्ट्स

भारतीय रेलवे चला रहा ये समर स्पेशल ट्रेनें, जानिए किन शहरों में कब चलेगी ये ट्रेनें

तेलंगाना में आज से 10 दिन के लिए बढ़ाया गया लॉक डाउन