ED के सामने पेश हुए सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव, बोले- मैंने 15 दिन का समय मांगा था, नहीं दिया !
ED के सामने पेश हुए सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव, बोले-  मैंने 15 दिन का समय मांगा था, नहीं दिया !
Share:

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत विदेशी मुद्रा उल्लंघन मामले में पूछताछ के लिए आज सोमवार (30 अक्टूबर) को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने पेश हुए। ED ने पिछले हफ्ते विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) के प्रावधानों के तहत वैभव गहलोत (43) को एपीजे अब्दुल कलाम रोड स्थित अपने मुख्यालय में मामले के जांच अधिकारी के सामने पेश होने के लिए समन जारी किया था।

बता दें कि, वैभव गहलोत राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) के सदस्य भी हैं। समन के बाद उन्होंने कहा था कि एजेंसी उनके खिलाफ 10-12 साल पुराने झूठे आरोप लगा रही है और वह भी चुनाव की तारीखें घोषित होने के बाद। उल्लेखनीय है कि, 200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा के लिए मतदान 25 नवंबर को होगा। राजस्थान के साथ-साथ चार अन्य राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में वोटों की गिनती 3 दिसंबर को होगी। एजेंसी ने फेमा के तहत वैभव गहलोत का बयान दर्ज किया है। जिसके तहत कानूनी कार्यवाही सिविल प्रकृति की होती है।

एक घंटे के लंच ब्रेक के बाद बाहर आने के बाद वैभव गहलोत ने ईडी कार्यालय के बाहर संवाददाताओं से कहा कि, 'मेरा या मेरे परिवार का फेमा या विदेशी लेनदेन से कोई संबंध नहीं है, उन्होंने मुझे समन में उपस्थित होने के लिए कम समय दिया। मैंने 15 दिन का समय मांगा था। उन्हें मुझे और समय देना चाहिए था।'' बता दें कि, फेमा समन राजस्थान स्थित आतिथ्य समूह ट्राइटन होटल्स एंड रिसॉर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, वर्धा एंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड और इसके निदेशकों और प्रमोटरों शिव शंकर शर्मा, रतन कांत शर्मा और अन्य के खिलाफ हाल ही में ईडी की छापेमारी से जुड़े हैं।

ईडी ने जयपुर, उदयपुर, मुंबई और दिल्ली में ठिकानों पर छापेमारी की:-
एजेंसी ने अगस्त में तीन दिनों तक जयपुर, उदयपुर, मुंबई और दिल्ली में समूह और उसके प्रमोटरों की तलाशी ली थी। इसने छापे के दौरान "आपत्तिजनक" दस्तावेज़ बरामद करने का दावा किया था और आरोप लगाया था कि ट्राइटन समूह "सीमा पार निहितार्थ वाले हवाला लेनदेन में शामिल था।" ईडी ने एक बयान में कहा था कि एजेंसी ने 1.27 करोड़ रुपये की "बेहिसाब" नकदी और डिजिटल साक्ष्य, हार्ड डिस्क, मोबाइल आदि भी जब्त किए हैं, जो खाते की किताबों से समूह द्वारा किए गए बड़े पैमाने पर लेनदेन को दर्शाते हैं।

'झूठे हैं पिनाराई विजयन..', केरल में PFI-SDPI और 'हमास' की मौजूदगी को लेकर सीएम पर भड़के केंद्रीय मंत्री चंद्रशेखर !

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने पाटन से भरा नामांकन, बोले- फिर से लाएंगे कांग्रेस

पत्नी साधना और लाड़ली बहनों की उपस्थिति में CM शिवराज ने भरा नामांकन, बोले- 'अब मैं यहां नहीं आऊंगा...'

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -