केंद्रीय गृहमंत्री ने की नोट बंद करने की सराहना

नई दिल्ली : केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने केंद्र सरकार द्वारा 1000 रूपए और 500 रूपए के नोटों को बंद करने के निर्णय की सराहना की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटों को बंद करने की जो घोषणा की उसका स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस निर्णय का हर कहीं स्वागत किया जा रहा है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह निर्णय साहसिक है। उन्होंने कहा कि 1000 और 500 रूपए के नोटों को बंद करने के बाद भ्रष्टाचार व आतंकवाद के विरूद्ध भारत की लड़ाई मजबूत होगी।

उनका कहना था कि 1000 रूपए और 500 रूपए के नोट को समाप्त करने के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय अर्थव्यवस्था में जाली नोट के प्रवाह व कालेधन को समाप्त करने के लिए पहल की है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा है कि सरकार ने यह फैसला ले लिया है लेकिन इससे परेशानी होगी। ममता बनर्जी ने निर्णय को वापस लेने की मांग की।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार पर विदेश से कालाधन हटाने का नाटक किया है। कांग्रेस ने कहा है कि सरकार का यह निर्णय कारोबारियों, छोटे व्यापारियों और गृहिणियों के लिए कई तरह की परेशानियां सामने आ सकती हैं।

दरअसल कारोबारियों, छोटे कारोबारियों व गृहिणियों के लिए परेशानी होगी। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कालेधन के मसले पर कांग्रेस सटीक कदमों का और अर्थपूर्ण नीति का समर्थन करेगी। आखिर क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विदेशों में जमा 80 लाख करोड़ रूपए का काला धन न ला पाने की असफलता को छुपाने के लिए नोट्स चेंज करने का निर्णय सामने लाए हैं।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -