शत्रुघ्न सिन्हा जैसे वफादार नेताओं की भी भाजपा में कोई पूछ नहीं : नितीश

By Rohit Tripathi
Sep 12 2015 11:05 AM
शत्रुघ्न सिन्हा जैसे वफादार नेताओं की भी भाजपा में कोई पूछ नहीं : नितीश

पटना. होटल मोर्या में एक निजी चैनल के कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा पर जम कर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि भाजपा वैसे तो भारतीय संस्कृति की बात करती है, लेकिन वह अपने ही लोगों का सम्मान नहीं करती है. भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी जैसे बुजुर्ग नेताओं को उन्होंने कोल्ड स्टोरेज में डाल दिया है. भाजपा को जिस व्यक्ति ने दो सीट से 86 सीट तक पहुंचाया दिया था. जिन्होंने पार्टी को बनाने में अहम योगदान दिया, उन्हीं को बिहार विधानसभा चुनाव के कैंपेन से बहार कर दिया है.

भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की मेहनत और उन्होंने भाजपा के लिए जो काम किया है, उन चीजों से इन्हें अब क्या मतलब? अब भाजपा तो बिल्कुल नये अवतार में नजर आ रही है. उन्होंने कहा कि बिहार बाबू शत्रुघ्न सिन्हा जैसे वफादार नेताओं की भी भाजपा में कोई पूछ नहीं है. बिहारी बाबू मेरे मित्र है हमारे व्यक्तिगत संबध हैं. बिहारी बाबू का व्यक्तिगत रिश्ता बहुत से लोगों के भी साथ है. हम सभी लोग उनका सम्मान करते है, वे बिहार के गौरव है. जिस समय भाजपा की बात कोई नहीं सुनता था, उस समय भाजपा सभी जगह पर बिहारी बाबू से मीटिंग करवाती थी.

नितीश ने कहा कि जिसने भाजपा को बनाया, उसे खड़ा किया उन्हें ही दूध की मक्खी की तरह निकाल रहे हैं. मतलब निकल गया है तो अब उन्हें पहचानते भी नहीं है. भाजपा का कैरेक्टर शुरुआत से यही है. बिहार की जनता को भाजपा के पुराने इतिहास को समझना चाहिये. साथ ही जनता को झांसे में नहीं आना चाहिए.