भाजपा के लिए कश्मीर में बढ़ी चिंता, लोकसभा चुनाव में दिखेगा असर

Jan 07 2019 04:34 PM
भाजपा के लिए कश्मीर में बढ़ी चिंता, लोकसभा चुनाव में दिखेगा असर

श्रीनगर : प्रदेश में अपने बलबूते सरकार बनाने का दम भर रही भाजपा के लिए लद्दाख बड़ी चुनौती बन गया है। लद्दाख की एक मात्र लोकसभा सीट से सांसद थुपस्टान छिवांग पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे चुके हैं। जानकारी के लिए बता दें लेह स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद में भी भाजपा में टूट का दौर जारी हैं। ऐसे में 11 जनवरी से नई दिल्ली में होने जा रही भाजपा की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा के आसार है।

ख़त्म नहीं हो रही फडणवीस सरकार की परेशानी, अब कैबिनेट मंत्री ने बढ़ाई मुसीबत

यह लेंगे बैठक में हिस्सा 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय कार्यकारी परिषद की बैठक में प्रदेश नेतृत्व के अलावा भाजपा के सांसद, पूर्व विधायक व एमएलसी भी हिस्सा लेंगे। पिछले लोकसभा चुनाव में जम्मू कश्मीर में भाजपा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए जम्मू संभाग की दोनों लोकसभा सीटों के साथ-साथ लद्दाख की एक मात्र लोकसभा सीट पर भी कब्जा जमाने में सफलता हासिल की थी।

नितिन गडकरी ने कर दी इंदिरा गाँधी की तारीफ, भाजपा खेमे में मचा हड़कंप

प्राप्त जानकारी के अनुसार जैसे जैसे समय बीतता गया लद्दाख के सांसद भी भाजपा से दूरी बनाते चले गए और आखिर में उन्होंने इस्तीफा दे दिया। हालांकि उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया लेकिन वह पार्टी से दूरी बनाए हुए हैं और इस सीट पर भाजपा की दोबारा जीत पार्टी के लिए चुनौती रहेगी।

सपा महासचिव का विवादित बयान, सीबीआई को बताया सरकार का तोता

अमित शाह की चेतावनी पर दहाड़ी शिवसेना, कहा 'ऊपर चढ़ोगे तो सींग से पटक देंगे'

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, प्रिय दत्त ने किया लड़ने से इंकार