बांग्लादेश: इस तीरंदाज ने तीसरे गोल्ड पर साधा निशाना, घर से भागकर ली थी ट्रेनिंग

बांग्लादेश: इस तीरंदाज ने तीसरे गोल्ड पर साधा निशाना, घर से भागकर ली थी ट्रेनिंग

पाल के काठमांडू में चल रहे दक्षिण एशियाई खेलों में बांग्लादेश की तीरंदाज एती खातून ने बीते सोमवार यानी 09 दिसंबर 2019 को तीसरा गोल्ड जीता. वह पश्चिमी बांग्लादेश के छोटे से गांव की रहने वाली हैं. वहीं वह परिवार और समाज के विरोध के बावजूद एती इस मुकाम तक पहुंचने में सफल रही हैं.

रिपोर्ट में उन्होंने बताया है कि उनका परिवार 12 साल की उम्र में उनकी शादी करवाना चाहता था, लेकिन उन्होंने इससे इनकार कर दिया और भागकर ढाका आ गईं. यहां उन्होंने तीरंदाजी प्रशिक्षण शिविर में ट्रेनिंग ली. एती की उम्र अभी 14 वर्ष है.

वहीं उन्होंने कहा कि मेरा परिवार चाहता था कि मेरी छोटी उम्र में ही शादी हो जाए, लेकिन मैंने इसका विरोध किया. मैं दो दिन तक रोती रही और खाना-पीना भी छोड़ दिया था. मैंने परिवार पर ढाका तीरंदाजी प्रशिक्षण शिविर में नाम लिखाने के लिए दबाव बनाया. अब मेरा सपना ओलंपिक में मेडल जीतना है.

डोपिंग बैन के बाद पृथ्वी शॉ ने की दमदार वापसी, न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट टीम में मिल सकती है जगह

इंडियन सुपर लीगः जमशेदपुर और चेन्नइयिन के बीच मैच हुआ ड्रा

इयान चैपल ने जताई चिंता, कहा- ऑस्ट्रेलिया के लिए मुश्किल होगा भारत के साथ डे नाईट टेस्ट खेलना