कॉन्टैक्टलेस बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD के साथ अपनी सेविंग बढ़ाएं

Apr 08 2021 11:38 AM
कॉन्टैक्टलेस बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD के साथ अपनी सेविंग बढ़ाएं

बाज़ार में उतार-चढ़ाव के इस दौर में जब आप अपने ब्रोकरेज अकाउंट में लॉगिन करते हैं और देखते हैं कि आपके पोर्टफोलियो उसके बैलेंस अमाउंट का मूल्य कम हो गया है, तो आपको बड़ी निराशा होती है। अपने निवेश को विभिन्न प्रकार के विकल्पों में बाँटना, दरअसल इस तरह के जोखिम को कम करने तथा अपनी सेविंग्स को बाज़ार के उतार-चढ़ाव से बचाने का सबसे अच्छा तरीका है। पोर्टफोलियो में विविधता लाने से आपको किसी एक स्कीम में नुक़सान होने पर किसी दूसरे स्कीम में फायदे से इसकी भरपाई करने में मदद मिल सकती है। 

हालांकि निवेश के ज्यादातर विकल्प बाज़ार के जोखिमों से जुड़े होते हैं, लिहाजा अपनी सेविंग्स के एक हिस्से को फिक्स्ड डिपॉजिट में निवेश करना बेहतर होता है। फिक्स्ड डिपॉजिट निवेश का बेहद सुरक्षित साधन है, जिस पर बाज़ार के उतार-चढ़ाव का कोई असर नहीं होता है और यह लगातार रिटर्न प्रदान करता है। 

बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD के साथ अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाने के कारण

अगर आप सही FD में निवेश करने को इच्छुक हैं, तो बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD  में निवेश करने पर विचार करें, जो आपको अपने घर पर आराम से रहते हुए आकर्षक FD दरों पर निवेश करने की सुविधा प्रदान करता है। बजाज फाइनैंस FD के साथ अपने निवेश में विविधता लाने का विकल्प सबसे बेहतर क्यों है, इसके बारे में आगे बताया गया है। 

7.25% तक की ब्याज़ दरें

शेयर बाजार में होने वाले उतार-चढ़ाव का पहले से अनुमान लगाना बेहद कठिन है, और इससे गुजरने वाले लोग सुरक्षा के साथ सुनिश्चित रिटर्न पाने के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट की शरण लेते हैं। बजाज फाइनैंस फिक्स्ड डिपॉजिट के साथ आपको बेहद आकर्षक FD ब्याज़ दरों का फायदा भी मिलता है, और इस तरह आप अपनी सेविंग्स को आसानी से बढ़ा सकते हैं। 

यहाँ बजाज फाइनैंस FD द्वारा ऑफ़लाइन माध्यमों से निवेश करने वाले गैर-वरिष्ठ नागरिकों को दी जाने वाली ब्याज़ दरों का विवरण प्रस्तुत किया गया है।

 

ब्याज़ की वार्षिक दर, जो 5 करोड़ रुपये तक की डिपॉजिट के लिए वैध है (01 फरवरी, 2021 से प्रभावी)

समयावधि (महीने में)

न्यूनतम डिपॉजिट (रुपये में)

क्यूम्यलेटिव

नॉन-क्यूम्यलेटिव

मासिक

तिमाही

छमाही

वार्षिक

12 – 23

25,000

6.15%

5.98%

6.01%

6.06%

6.15%

24 – 35

6.60%

6.41%

6.44%

6.49%

6.60%

36 - 60

7.00%

6.79%

6.82%

6.88%

7.00%

 

इस तालिका से आप देख सकते हैं, बजाज फाइनैंस ऑफ़लाइन निवेश करने वाले व्यक्तियों को 7% तक ब्याज़ दर प्रदान करता है, साथ ही ऑनलाइन निवेश करने पर 0.10% की अतिरिक्त ब्याज़ दर का फायदा भी मिलता है। वरिष्ठ नागरिकों 0.25% की अतिरिक्त ब्याज़ दर का फायदा उठा सकते हैं, जिससे उन्हें 7.25% तक सुनिश्चित रिटर्न पाने में मदद मिलती है। इन आकर्षक FD दरों पर निवेश करके, आप सुनिश्चित रिटर्न के साथ-साथ अपने पोर्टफोलियो को स्थिरता भी प्रदान कर सकते हैं। 

ऑनलाइन निवेश की सरल प्रक्रिया

बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD में निवेश करने से आपको लंबी कागजी कार्रवाई और कतारों में देर तक खड़े रहने के झंझट से छुटकारा मिल जाता है। ऑनलाइन माध्यमों से निवेश की सुविधा के साथ, आप अपने घर पर आराम से रहते हुए FD में निवेश कर सकते हैं। इतना ही नहीं – इस तरह आपको 0.10% की अतिरिक्त ब्याज़ दर का लाभ मिलता है, जो आपकी सेविंग्स को और ज्यादा बढ़ाने में बेहद मददगार साबित होता है। 

निवेश के सुविधाजनक विकल्प

बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD में निवेश करते समय आप 12 से 60 महीने की समयावधि का चयन कर सकते हैं, साथ ही आप समय-समय पर भुगतान पाने का विकल्प भी चुन सकते हैं। निवेश के अपने लक्ष्यों और अपने मनोनुकूल समय-सीमा को ध्यान में रखते हुए, आप अपनी जरूरतों के अनुरूप समयावधि और नियमित अंतराल पर भुगतान पाने का विकल्प चुन सकते हैं। 

अगर फिलहाल आप अपनी आर्थिक स्थिति को देखते हुए एकमुश्त राशि का निवेश नहीं कर सकते हैं, तब भी आपके लिए बजाज फाइनैंस FD में निवेश करने का एक शानदार विकल्प मौजूद है। बजाज फाइनैंस का सिस्टमैटिक डिपॉजिट प्लान इस समस्या का सबसे उपयुक्त समाधान है। यह मासिक जमा योजना आपको निवेश का विकल्प प्रदान करती है, जिसमें आप हर महीने छोटी राशि जमा कर सकते हैं और चक्रवृद्धि ब्याज़ के आधार पर भविष्य में लाभ प्राप्त कर सकते हैं। 

इन सुविधाओं के साथ-साथ बजाज फाइनैंस FD आपको निवेश पर रिटर्न मिलने की गारंटी देता है, तथा आपकी जमा-पूँजी की उच्चतम सुरक्षा सुनिश्चित करता है। फिलहाल आपकी आर्थिक स्थिति चाहे जैसी भी हो, बेहतर रिटर्न पाने और जोखिमों को संतुलित करने के लिए बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD के साथ अपने निवेश में विविधता लाने से आपको फायदा ही मिलेगा।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सोलर पीवी मॉड्यूल को बढ़ावा देने के लिए किया ये काम

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में क्या हुआ बदलाव ? यहाँ जानें आज के भाव

भारतीय रिजर्व बैंक वित्तीय समावेशन सूचकांक को करेगा प्रकाशित