पहाड़ों में बाबा के जयकारों की गूंज, आज खुले बद्रीनाथ के कपाट

बद्रीनाथ तीर्थ के कपाट आज सुबह श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं. सुबह करीब साढ़े चार बजे पट खोले गए जिसके बाद से ही भक्तों का भगवान के दर्शन का भक्तिमय कारवां शुरू हो गया. बद्रीविशाल के जयकारों की गूंज के साथ सूर्योदय से पहले ही पहाड़ों में शिव भक्तो का हुजूम लग गया. भक्त दो तीन दिन पहले ही हजारों की तादात में बद्रीनाथ के दर्शन के लिए उत्तराखंड में गढ़वाल के उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित चारों धामों में सबसे प्रमुख बद्री विशाल  पहुंच चुके है.

पट खुलते ही बाबा बद्रीनाथ के दर्शन को भीड़ में खड़े भक्तों ने जयकारा लगाकर भगवान के प्रथम दर्शन का लाभ लिया. उधर बाबा बर्फानी के केदारनाथ धाम के कपाट रविवार की सुबह श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए है. पुजारियों के मंत्रोच्चार और श्रद्धालुओं के जयकारे के बीच छह महीने बाद केदरानाथ के कपाट खोले गए. कपाट खुलने के बाद मंदिर में पूजा अर्चना की गई, उसके बाद भगवान शिव के दर्शन शुरू हो गए.

बद्रीनाथ में इसी के साथ पहाड़ों में बाबा की पूजा अर्चना और आरती का भक्तिमय सिलसिला शुरू हो गया. सर्दियों में बद्रीनाथ सहित गढ़वाल के हिमालयी क्षेत्र में स्थित चारों धामों के कपाट भारी हिमपात और भीषण ठंड के कारण अक्टूबर-नवंबर में बंद कर दिए जाते हैं जो दोबारा अप्रैल-मई में खुलते है. इस साल चार धामों के लिए यात्रा की शुरुआत 18 अप्रैल से गंगोत्री और यमुनोत्री के पट खुलने के साथ ही हो गई है.

केदारनाथ के कपाट खुले, बाबा के दर्शन को उमड़ी भीड़

केदारनाथ: टल सकती है पीएम की यात्रा, पुनर्निर्माण में हुई देर

फिल्म 'केदारनाथ' की शूटिंग फिर से होगी शुरू

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -