कोरोना की भेट चढ़ाता जा रहा ऑटो सेक्टर, इंडस्ट्री पर मंडरा रहा यह खतरा

देश की इकोनॉमी में ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री का अहम योगदान है. ये सेक्टर सीधे तौर पर 10 लाख लोगों को रोजगार देता है. ऐसे में कोरोनावायरस महामारी के चलते ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री जिसकी स्थिति पहले से ही काफी खराब थी और अब इसकी बची-खुची रौनक को भी खत्म कर दिया है. मार्च 2020 में देश में पैसेंजर वाहनों की बिक्री में 51 फीसद की गिरावट देखी गई है.

Royal Enfield : कंपनी ने ग्राहकों के लिए किया फ्री सर्विस का ऐलान

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कोविड-19 की वजह से जिस तरह से लॉकडाउन लगा है उससे हर तरह के वाहनों की बिक्री बंद हो गई है. अगर पीएम नरेंद्र मोदी आज अपने भाषण में पूरे अप्रैल के लिए लॉकडाउन का एलान करते हैं तो यह ऑटोमोबाइल सेक्टर के लिए और भी बुरी खबर होगी. ऐसी स्थिति में बिक्री की रफ्तार के शून्य के आसपास आ जाने का खतरा है.

BS6 Yamaha FZ 25 बाइक लवर्स का इंतजार जल्द होगा खत्म, जानें संभावित फीचर

सोमवार को ऑटोमोबाइल कंपनियों के संगठन सियाम ने मार्च 2020 और वर्ष 2019-20 के आंकड़े जारी किए हैं. इसमें कहा गया है कि पैसेंजर वाहनों की बिक्री 51 फीसद घटकर 1,43,014 यूनिट्स रह गई है. पैसेंजर वाहनों की बिक्री तो 89 फीसद घटकर 1,09,022 रह गई है. टू-व्हीलर्स वाहनों की बिक्री में तकरीबन 40 फीसद की गिरावट देखी गई है. सियाम के अध्यक्ष राजन वढ़ेरा का कहना है कि मार्च में 21 दिनों के लॉकडाउन का एलान किया गया था, समूचे इंडस्ट्री ने इससे चुनौतीपूर्ण समय नहीं देखा है.

भारतीय बाजार में TVS Radeon BS6 बाइक हुई लॉन्च, जाने कीमत

TVS Radeon से Hero Splendor Plus कितनी है अलग, जानें तुलना

Suzuki Burgman Street : मैक्सी-स्कूटर की रेंज में है अनोखा वाहन, इस कलर में होगा उपलब्ध

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -