6 साल की बच्ची को अश्लील फिल्म दिखाना चाहते थे 3 नाबालिग बच्चे, मना किया तो कर डाली हत्या

गुवाहाटी: असम के नौगाँव के कलियाबोर में 6 वर्षीय बच्ची का क़त्ल कर दिया गया। हत्या करने के आरोपित भी तीन बच्चे हैं, जिनकी आयु 8 से 11 वर्ष के बीच है। तीनों पोर्न एडिक्ट बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि इन्होंने पोर्न देखने से इनकार करने पर बच्ची का क़त्ल किया। नौगाँव पुलिस ने Twitter पर इस घटना की जानकारी दी है। पुलिस के मुताबिक, मिस्सा, कलियाबोर क्षेत्र में एक दुर्भाग्यपूर्ण घटनाक्रम में 6 साल की बच्ची की हत्या की गई थी। इस मामले को 24 घंटे में सुलझा लिया गया है। हत्या में 3 नाबालिग और एक वयस्क को अरेस्ट किया गया है। गिरफ्तार वयस्क उस 11 वर्षीय आरोपित का पिता ,है जिसके मोबाइल पर बच्चे पोर्न देख रहे थे।

 

जानकारी के मुताबिक, तीनों आरोपित बच्ची के घर के पास ही रहते थे। ये सभी अक्सर मोबाइल पर पोर्न क्लिप देखा करते थे। घटना के दिन इन सभी बच्चों ने बच्ची को लालच दे कर खदान पर बुलाया था। बाद में इन सभी ने बच्ची को पोर्न क्लिप मोबाइल में देखने के लिए कहा। जब बच्ची नहीं मानी तो उन्होंने पत्थरों से मार-मारकर उसे मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद इन सभी बच्चों ने लाश को वहीं के एक शौचालय में छिपा दिया। बाद में सभी आरोपित घर आ गए और उन्होंने इस घटना के संबंध में किसी को भी नहीं बताया। मगर पुलिस की जाँच में आख़िरकार ये सभी पकड़े गए। बच्ची की लाश मंगलवार (19 अक्टूबर 2021) को पत्थर की खदान के शौचालय से बरामद हुई थी। पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए आरोपित अन्य अपराधों का षड्यंत्र रचने और उनको अंजाम देने में भी सक्षम हैं। पुलिस ने इस कृत्य को आत्ममंथन और सामाजिक दखल का विषय भी बताया है।

नौगाँव जिले के पुलिस अधीक्षक आनंद मिश्रा ने भी घटना पर अपनी प्रतिक्रिया दी हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, 'परिवार और सामाजिक दखल के साथ संस्थागत मार्गदर्शन 4 युवा जीवन को बचा सकता था। यह हम में से किसी के भी साथ कहीं भी हो सकता है। अगर हमारी आने वाली पीढ़ियाँ सामाजिक-नैतिक मूल्यों पर नाकाम होती हैं, तो इसकी जिम्मेदारी हमारी ही होगी।'

पुणे: लॉकडाउन में गई नौकरी तो किन्नर बन गया युवक और फिर...

दर्दनाक हादसा जेसीबी से टकराई ऑटो, 4 की मौत

एक साथ 11 लोगों ने किस कारण की थी आत्‍महत्‍या? 3 साल बाद सामने आया 'बुराड़ी कांड' का सच

Most Popular

- Sponsored Advert -