पुणे: लॉकडाउन में गई नौकरी तो किन्नर बन गया युवक और फिर...

पुणे: महाराष्ट्र के पुणे जिले के जेजुरी से एक चौकाने वाली खबर आई है। जी दरअसल यहाँ पर एक ऐसा शख्स पुलिस के हत्थे चढ़ा है, जो किन्नर होने का नाटक कर रहा था और साड़ी पहनकर महिलाओं के जेवरात चुरा रहा था। इस मामले में पुलिस ने इस आरोपी को सोलापुर से गिरफ्तार कर लिया है। सबसे अहम बात यह बताई जा रही है कि यह शख्स कोई किन्नर नहीं है। मिली जानकारी के मुताबिक लॉकडाउन के चलते उसे कोई काम नहीं मिल रहा था और इसी के चलते वह आरोपी किन्नर होने का बहाना कर चोरी करने लगा।

अब उसने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। इस मामले में आरोपी की पहचान अभिषेक रावसाहेब भोरे के नाम से हुई है। जेजुरी पुलिस का कहना है कि, लॉकडाउन के चलते मंदिरों को फिर से खोल दिया गया है। ऐसे में अब जेजुरी के तीर्थ क्षेत्र में लोक कलाकार अब सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू कर चुके हैं। इसी बीच जेजुरी की एक महिला कलाकार को एक सह-कलाकार की आवश्यकता थी। वहीं फेसबुक पर सर्च करने के बाद रानी किन्नर नाम से एक अकाउंट मिला। जी दरअसल वह एक कलाकार के रूप में उसके साथ काम करने को तैयार हो गई। वहीं उसने बिना किसी हिचकिचाहट के जेजुरी बुलाया और उसे सह-कलाकार के रूप में लेने का फैसला किया।

उसने किन्नर होने का बहाना बनाया और दो दिन तक शिकायतकर्ता महिला के साथ रहा। उसके बाद तीसरे दिन किन्नर के भेष में रह रहे चोर डेढ़ तोला सोना और अन्य जेवरात तथा छह हजार रुपये नकद चुराकर रात के अंधेरा फायदा उठाकर भाग गया। उसके बाद जब महिला ने जेजुरी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई तो पुलिस इंस्पेक्टर सुनील महाडिक ने एक टीम सोलापुर भेजकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में आरोपी ने माना कि लॉकडाउन के चलते कोई काम ना होने के कारण वह किन्नर बनकर चोरी करने लगा।

चाची के डायन होने के शक पर भतीजे ने ले ली जान

दर्दनाक हादसा जेसीबी से टकराई ऑटो, 4 की मौत

एक साथ 11 लोगों ने किस कारण की थी आत्‍महत्‍या? 3 साल बाद सामने आया 'बुराड़ी कांड' का सच

Most Popular

- Sponsored Advert -