कोरोना से रिकवर होकर घर जा रही महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म, आरोपी फरार

गुवाहाटी: असम से सामूहिक बलात्कार की एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है, जहां अस्पताल से कोरोना से ठीक होने के बाद अपने घर को लौट रही महिला के साथ दो युवको ने बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया. चराईदेव जिले (Charaideo District) की निवासी महिला असम के बोरहाट नागामती क्षेत्र के चाय बागान श्रमिकों के परिवार से ताल्लुक रखती है. महिला को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद सपेखाती मॉडल हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था.

महिला के साथ ही उसके पति और बेटी का भी कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था. हालांकि पहले सब होम आइसोलेशन में थे, लेकिन हालत बिगड़ने के बाद तीनों को अस्पताल में एडमिट कराया गया. कोरोना नेगेटिव होने के बाद महिला के पति को 27 मई को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. जबकि महिला और उसकी बेटी को शनिवार को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया. असम में जारी कर्फ्यू के कारण मां-बेटी को घर जाने के लिए कोई वाहन नहीं मिला. महिला ने अस्पताल के अधिकारियों से उनके लिए एक वाहन का प्रबंध करने की भी अपील की. क्योंकि उनका घर अस्पताल से 25 किमी की दूरी पर था. हालांकि अधिकारियों ने उसकी अपील को ख़ारिज कर दिया, जिसके बाद महिला के पास पैदल घर तक जाने का ही विकल्प बचा.

असम के धुदरई इलाके में शाम लगभग सात बजे दो युवकों ने महिला और उसकी बेटी का पीछा किया और उसके साथ बेरहमी से बलात्कार की घटना को अंजाम दिया. हालांकि इस बीच बेटी भागने में कामयाब रही और उसने घटना की सूचना आसपास के ग्रामीणों और पुलिस को दी. स्थानीय ग्रामीणों और पुलिस ने पीड़िता को गंभीर स्थिति में पाया, जिसके बाद उसे पास के एक अस्पताल में एडमिट कराया गया. चराईदेव जिला पुलिस ने अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए मुहीम शुरू कर दी है. 

अब बिना क्राइम किए भी आप जा सकते है जेल

पटना: 'घबराओ नहीं, कुछ नहीं होगा’ कहकर लड़की को इधर-उधर छूने लगा एंबुलेंस ड्राइवर और फिर...

पहले देवर के साथ मिलकर पति को दी मौत और फिर देवर को ही उतार दिया मौत के घाट

Most Popular

- Sponsored Advert -