चीनी बैंक केस: UK कोर्ट में बोले अनिल अंबानी- 'गहने बेचकर भर रहा वकीलों की फीस'

चीनी बैंक केस: UK कोर्ट में बोले अनिल अंबानी- 'गहने बेचकर भर रहा वकीलों की फीस'

मुंबई: कभी देश के शीर्ष अरबपतियों में शामिल रहे अनिल अंबानी की आर्थिक हैसियत ऐसी हो गई है कि अपने वकीलों की Fee भरने के लिए उन्हें अपने जेवर बेचने पड़ रहे हैं। कर्ज के बोझ तले दबे उद्योगपति अनिल अंबानी ने खुद ब्रिटेन की एक कोर्ट को यह बात बताई। उन्होंने अदालत से कहा कि वो एक साधारण जीवन जी रहे हैं और वो केवल एक कार उपयोग करते हैं।

अनिल अंबानी ने कहा कि इस वर्ष जनवरी से जून के बीच उन्होंने 9.9 करोड़ रुपये के मूल्य के गहने बेचे और अब उनके पास वैसा कुछ मूल्यवान सामान नहीं बचा है। जब उनसे लग्जरी कारों के बेड़े के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा है कि, 'ये सारे मीडिया में आ रही अफवाहें। मेरे पास कभी रॉल्स रॉयस नहीं थी। अभी मैं सिर्फ एक कार का उपयोग कर रहा हूं।'

ब्रिटेन उच्च न्यायालय ने 22 मई, 2020 को अंबानी से कहा था कि वो चीन के तीन बैंकों को 12 जून, 2020 तक 71,69,17,681 डॉलर (लगभग 5,281 करोड़ रुपये) कर्ज की रकम और 50,000 पाउंड (लगभग 7 करोड़ रुपये) को कानूनी खर्च के तौर पर भुगतान करें। फिर 15 जून को इंडस्ट्रियल ऐंड कमर्शल बैंक ऑफ चाइना के नेतृत्व में चीनी बैंकों ने अनिल अंबानी की प्रॉपर्टी का खुलासा करने की मांग की।

आरबीआई ने शहरी सहकारी बैंकों की सुरक्षा के लिए रखा पांच सूत्रीय का प्रस्ताव

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों के भविष्य के लिए सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

शेयर बाजार में आई रिकवरी, 450 अंक मजबूत हुआ सेंसेक्स