एमेजाॅन, गूगल पर लगा 13.5 करोड़ यूरो का जुर्माना, सामने आई ये बड़ी वजह

पेरिस: फ्रांस में डेटा निजता की निगरानी करने वाली इकाई CNIL ने सर्च इंजिन गूगल पर 10 करोड़ यूरो (लगभग 900 करोड़ रुपये) और  Amazon पर 3.5 करोड़ यूरो लगभग 314 करोड़ रुपये का भारी जुर्माना लगाया है. दोनों पर ये जुर्माना देश के विज्ञापन कुकीज नियमों का उल्लंघन करने का दोषी पाए जाने पर लगाया गया है. 

नेशनल कमीशन ऑन इंफोर्मेटिक्स ऐंड लिबर्टी (CNIL) ने एक बयान में कहा कि दोनों कंपनियों की फ्रांसीसी वेबसाइट ने इंटरनेट उपभोक्ताओं से विज्ञापन उद्देश्यों के लिए ट्रैकर्स और कुकीज को पढ़ने की पूर्वानुमति नहीं ली है. ये कुकीज और ट्रैकर्स यूजर के कंप्यूटर में अपने आप सहेज ली जाती थी, जबकि नियम के अनुसार, इसके लिए यूजर्स से मंजूरी ली जानी चाहिए थी.  एजेंसियों के अनुसार, बयान में कहा गया है कि गूगल और एमेजाॅन यूजर्स को यह बताने में भी नाकाम रहीं कि वे इस काम के लिए इन कुकीज का इस्तेमाल करेंगी और किस तरह उपभोक्ता इनके लिए मना कर सकते हैं. 

गूगल ने इस मामले पर अपने बयान में कहा है कि, ‘जो लोग गूगल का इस्तेमाल करते हैं, वे हमसे अपनी निजता के सम्मान की उम्मीद करते हैं. हम अपफ्रंट इन्फाॅर्मेशन, स्पष्ट नियंत्रण, मजबूत इंटरनेशन डेटा गवर्नेंस, सुरक्षित इन्फ्रास्ट्रक्चर और उपयोगी उत्पादों के अपने रिकाॅर्ड पर बरक़रार हैं. आज के आदेश में इस बात का ध्यान नहीं रखा गया है कि फ्रांस के नियम-कायदे अनिश्चित हैं और निरंतर बदल रहे हैं. हम CNIL के साथ लगातार संपर्क बनाए रखेंगे.‘ 

दिल्ली और वाराणसी के बीच बनेगा एलिवेटेड रेलवे ट्रैक, 320 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी ट्रेन

स्पाइसजेट के शेयरों में आई 6 प्रतिशत की तेजी

भारतीय ह्यूम पाइप कंपनी के शेयरों में आई बढ़त, यूपी में जलापूर्ति योजनाओं के लिए प्राप्त हुए एलओए

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -