'मंदिर बनने लगा है, भगवा चढ़ने लगा है..', यूपी चुनाव में तेज हुई सुरों की जंग

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को फतह करने के लिए जोर लगा रहे सियासी दलों के बीच अब सुरों का भी संग्राम छिड़ गया है। ये पार्टियां अपनी-अपनी नीतियों के प्रचार और विरोधियों पर जुबानी तीर छोड़ने के लिए तरह-तरह के गीतों का सहारा ले रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (सपा) और अब आम आदमी पार्टी (AAP) ने भी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अपना थीम सॉन्ग रिलीज़ कर दिया है। वैसे, चुनाव प्रचार में गीतों की सहायता अक्सर ली जाती है, लेकिन कोरोना महामारी के दौरान वर्चुअल हुए चुनाव प्रचार में इन गीतों के माध्यम से वोटरों के जहन में बस जाने की होड़ लग गई है।

सत्ताधारी भाजपा के चुनावी गीतों में पार्टी की हिंदुत्ववादी गौरव गाथा और सरकार के विकास कार्यों का उल्लेख है। भाजपा के सांसद और भोजपुरी अभिनेता रवि किशन और मनोज तिवारी इन गानों पर मेहनत कर रहे हैं। कुछ गीत जारी भी हो चुके हैं। इनमें 'डमरु जब बजेगा तो देखना नजारा क्या होगा' और 'यूपी में सब बा' जमकर चल रहे हैं। एक गाना है "जो राम को लाए हैं, हम उनको लाएंगे", और "मंदिर बनने लगा है, भगवा रंग चढ़ने लगा है", पार्टी की हिंदुत्ववादी छवि और एजेंडा को प्रदर्शित कर रहे हैं। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष दीक्षित ने मीडिया को बताया कि, 'निर्वाचन आयोग ने आगामी 22 जनवरी तक चुनावी रैलियों और सभाओं पर रोक लगा रखी है। ऐसे में भाजपा गीतों के जरिए वोटर्स के दिलो-दिमाग में जगह बनाने की कोशिश कर रही है। पार्टी अपनी सोशल मीडिया टीम के जरिए प्रत्येक मतदाता तक इन गीतों को पहुंचाएगी।'

वहीं, राज्य के मुख्य विपक्षी दल सपा ने भी अपने तरकश में कई गीत रखे हैं। इनमें 'हुंकारा', 'जनता पुकारती है' और 'जय-जय समाजवाद' सपा के समर्थकों की जुबान पर हैं। इन गीतों में सपा की पूर्ववर्ती सरकार द्वारा किए गए कार्यों के महिमांडन के साथ-साथ दोबारा सत्ता में आने पर सभी वर्गों की समस्याएं दूर करने की उम्मीद जगाने का प्रयास किया गया है।

एंट्रिक्स-देवास डील पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला, कांग्रेस पर क्यों लगे फर्जीवाड़े के आरोप ?

कब्रिस्तान और मदरसों की बॉउंड्री बनवाएगी राजस्थान सरकार, CM गहलोत ने किए कई बड़े ऐलान

'लड़की हैं तो क्या, टिकट दे दें ..', लड़की हूँ लड़ सकती हूँ अभियान पर बोलीं कांग्रेस नेता शहला अहरारी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -