दिल्ली में ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए हंगामे के बाद बोले उत्तराखंड के सीएम- ये किसान नहीं हो सकते

By Nikki Chouhan
Jan 27 2021 01:17 PM
दिल्ली में ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए हंगामे के बाद बोले उत्तराखंड के सीएम- ये किसान नहीं हो सकते

देहरादून: कृषि कानूनों के विरुद्ध दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर शांतिपूर्ण ट्रैक्टर रैली के चलते हुए हंगामे के पश्चात् उत्तराखंड की सीमाओं पर भी सिक्योरिटी कड़ी करने का सतर्क जारी किया गया है। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया है कि सभी देहरादून, हरिद्वार तथा नैनीताल शहर अपने बॉर्डर पर पैनी निगरानी बनाए रखें। अन्नदाताओं ने देहरादून भी आने की रणनीति बनाई थी।

हालांकि, मंगलवार को ऐसी कोई बात नहीं हुई। वहीं सुरक्षा इंतजाम को ध्यान में रखते हुए पुलिस महानिदेशक ने एजेंसियों को भी सतर्क रहने को कहा है। दिल्ली में हंगामे के पश्चात् रुद्रपुर की रामपुर बॉर्डर पर पुलिस तैनात कर दी गई है। गणतंत्र दिवस की देर रात एसपी क्राइम ने उत्तराखंड तथा उत्तर प्रदेश पुलिस की बैठक ली थी। उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 26 जनवरी को दिल्ली में किसान रैली के चलते हुए उपद्रव को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा है कि ऐसा करने वाले अन्नदाता नहीं हो सकते।

साथ ही सीएम ने कहा कि 26 जनवरी को दिल्ली में अन्नदाताओं के नाम पर कुछ अराजक तत्वों द्वारा जो कृत्य किया गया, वह नहीं होना चाहिए था। जो अन्नदाता 26 जनवरी के पर्व पर ऐसा कदम उठाये वह अन्नदाता नहीं हो सकता। इस तरह की घटना हम सबके लिए चिंता का विषय है। कहा कि जो किसान इस अराजकता फैलाने वाले उपद्रव में सम्मिलित नहीं हुए, उन्हें वे नमन करते हैं। हमारे प्रदेश में इस तरह की कोई घटना न हो इसके लिये प्रदेश सरकार कटिबद्ध है।

इंदौर: ऑटो ड्राइवर को पिता-पुत्र ने बीच सड़क पर मारी गोली, मामूली बात पर शुरू हुआ था विवाद

भारत में बढ़ा कोरोना का कहर, 24 घंटों में सामने आए इतने केस

'निवस्त्र किए बिना स्तन छूना यौन हमला नहीं...' बॉम्बे HC के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती