पुलवामा हमला: शहीदों की चिता पर सियासी रोटियां सेंक रहे अखिलेश, मोदी-योगी पर किया हमला

कन्नौज: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर गुरुवार को हुए आत्मघाती आतंकी हमले में शहीद हुए कन्नौज जिले के प्रदीप सिंह के घर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष पूर्व सीएम अखिलेश यादव पहुंचे। उन्होंने शहीद के परिवार वालों को ढांढस बंधाया। साथ ही उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि पुलवामा की घटना बड़ी चूक का परिणाम है। उन्होंने सवाल किया है कि सर्जिकल स्ट्राइक पर जश्न मनाने वाले जवाब दें, इतने सैनिकों की जान कैसे गई।

पुलवामा हमला: सुब्रमणियम स्वामी ने किया खुलासा, 2014 के एक फैसले के चलते शहीद हुए 44 जवान

कन्नौज जिले का लाल इंदरगढ़ के सुखसेनपुर के निवासी प्रदीप सिंह यादव पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हो गए हैं। वे उस बटालियन में शामिल थे, जिसे आंतकियों ने लक्ष्य बनाया था। गुरूवार देर रात ये सूचना उनके पैतृक घर पहुंची तो परिजनों को गहरा सदमा पहुंचा। जिले में शोक व्याप्त हो गया। एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने प्रदीप की शहादत की जानकारी दी है। प्रदीप सिंह यादव श्रीनगर में 115 बटालियन में तैनात थे। चार दिन पहले छुट्टी से वापस पहुंचे थे। प्रदीप सिंह की पत्नी नीरज देवी अपनी दो बेटियां 10 वर्षीया सुप्रिया यादव और ढाई वर्ष की सोना यादव के साथ कानपुर में रहती हैं। 10 फरवरी को परिवार से विदा लेकर प्रदीप जम्मू रवाना हुए थे, 11 फरवरी को वे जम्मू पहुंचे थे।

पुलवामा हमले: पंजाब सरकार का बड़ा ऐलान, शहीदों के परिजनों को 12-12 लाख रु

शुक्रवार को शहीद के घर पहुंचे पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने शहीद के पिता अमर सिंह और छोटे भाई कुलदीप से बातचीत की। शहीद की पत्नी नीरज और मां सरोजनी देवी के साथ ही अखिलेश ने शहीद की दोनों बेटियों के भी हालचाल जाने। पुलवामा में हुई घटना पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा है कि, जिन पर देश की सुरक्षा की जिम्मेदारी है, दुर्भाग्य से उनकी ही जान इस घटना में चली गई। कहीं न कहीं यह बड़ी चूक हुई है। 

खबरें और भी:-

ट्रंप ने अमेरिका में लगाईं इमरजेंसी, ये है वजह

अब भी हिन्दुस्तान का दर्द नहीं समझ रहा चीन, अजहर पर पाबंदी की मांग ठुकरा कर अलापा पाक राग

आज़म खान को आतंकी हमले पर भी सूझी राजनीति, पीएम मोदी को बताया जिम्मेदार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -