भाजपा-अकाली दल के गठबंधन को बड़ा झटका, शेर सिंह ने थामा कांग्रेस का हाथ

अमृतसर: लोकसभा चुनाव से पहले पंजाब में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिरोमणि अकाली दल की गठबंधन को तगड़ा झटका लगा है। फिरोजपुर से शिरोमणि अकाली दल के सांसद शेर सिंह घुबाया ने मंगलवार को कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। उन्होंने सोमवार को पार्टी की सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया था। उन्होंने पार्टी की सदस्यता कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की उपस्थिति में ली है। 

जब पीएम मोदी ने छुए केशुभाई पटेल के पैर, देखें वीडियो

सोमवार को शेर सिंह घुबाया ने शिरोमणि अकाली दल से त्याग पत्र देते हुए कहा था कि सुखबीर सिंह बादल की गलत नीतियों की वजह से ही वे पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं। घुबाया ने कहा था कि अब लोगों का शिरोमणि अकाली दल से मोह भंग हो गया है। गत 10 वर्षों से फिरोजपुर संसदीय सीट से शेर सिंह घुबाया सांसद बने हुए हैं। इससे पहले वे जलालाबाद विधानसभा सीट से वे तीन बार विधायक भी रहे हैं।

कपिल सिब्बल ने माँगा एयर स्ट्राइक का सबूत, राजयवर्धन राठौड़ ने दिया करारा जवाब

तीसरी बार उन्होंने सुखबीर सिंह बादल के लिए जलालाबाद के विधायक पद से त्याग पत्र दे दिया था और बाद में फिरोजपुर से संसदीय चुनाव लड़ा था। सुखबीर सिंह बादल के बेहद नजदीकियों में से एक माने जाते थे शेर सिंह घुबाया। किन्तु शेर सिंह का कहना है कि वे पार्टी की गलत नीतियों के कारण परेशान थे। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा था कि पार्टी में रहते हुए उन्हें निरंतर नज़रअंदाज़ किया जा रहा था।

खबरें और भी:-

आज सब कुछ मुमकिन है, क्योंकि देश के 'प्रधानमंत्री' मोदी हैं - योगी आदित्यनाथ

नोबल शांति पुरस्कार पर बोले इमरान खान, कहा मैं नहीं इसके लायक

बूथ कार्यकर्ता को जीत का गणित समझाने आज झारखंड पहुंचेंगे अमित शाह

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -