एशिया का सबसे महंगा तलाक़, रातों-रात अरबों की मालकिन बन गई महिला

नई दिल्ली: एशिया के सबसे महंगे तलाक के बाद एक महिला नई अरबपति बन गई है। शेन्जेन कांगटई बायोलॉजिकल प्रोडक्ट्स कंपनी के चेयरमैन ड्यू वेइमिन की 29 मई को की गई फाइलिंग के तहत उन्होंने अपनी पूर्व पत्नी युआन लिपिंग को वैक्सीन मेकर के 161.3 मिलियन शेयर ट्रांसफर किए। इसके चलते वह रातों-रात दुनिया के सबसे राइस लोगों में शामिल हो गईं। सोमवार को बंद होने तक स्टॉक का मूल्य 3.2 अरब डॉलर था।

इस वर्ष 49 साल की हो चुकी युआन इन शेयरों की अकेली मालिक है, किन्तु उसने अपने पूर्व पति को वोटिंग के अधिकार देते हुए एक समझौते पर दस्तखत  किए। वह कनाडाई नागरिक हैं, जो अब शेन्जेन में रहती हैं। उन्होंने मई 2011 और अगस्त 2018 के बीच कांग्टाई के डायरेक्टर के तौर पर कार्य किया। वह अब सहायक बीजिंग मिन्हाई जैव प्रौद्योगिकी कंपनी युआन के उप महाप्रबंधक हैं, उन्होंने बीजिंग यूनिवर्सिटी के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और अर्थशास्त्र से अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है।

कंगताई के शेयरों की कीमत विगत एक वर्ष में दोगुने से अधिक हो गई है। फरवरी के बाद से इनकी कीमतों में वृद्धि जारी है, जब कंपनी ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एक टीका विकसित करने की योजना का ऐलान किया था। लेकिन, मंगलवार को तलाक की शर्तों के समाचार के बाद उनकी कंपनी के शेयर के दाम कम हो गए। हांगकांग में सुबह 9:43 बजे तक 3.1 फीसदी का नुकसान हुआ और कंपनी का बाजार मूल्य गिरकर 12.9 अरब डॉलर रह गया।

बता दें कि 56 वर्षीय ड्यू का जन्म चीन के जियांग्शी प्रांत में एक किसान परिवार में हुआ था। कॉलेज में रसायन विज्ञान की पढाई करने के बाद, उन्होंने 1987 में एक क्लिनिक में काम करना आरंभ किया और 1995 में एक बायोटेक कंपनी में बिक्री प्रबंधक बन गए, जो कि कांगटई के 2017 के शुरुआती सार्वजनिक पेशकश के प्रॉस्पेक्टस के मुताबिक था। 2009 में कांगटई ने मिनहाई का अधिग्रहण कर लिया। Du कंपनी की स्थापना 2004 में हुई और वह संयुक्त इकाई का प्रमुख बन गया।

धरती की तरफ तेजी से बढ़ रही एक बड़ी आफत, NASA ने किया सतर्क

लद्दाख में चीनी सेना को लेकर अमेरिका ने दी बड़ी जानकारी, सतर्क हुआ भारत

रिचमंड: हिलटॉप मॉल ​घटना को लेकर पुलिस ने सोशल मीडिया पर फैली खबर को बताया गलत

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -