बीजिंग में फिर छाया धुंध, बढ़ा प्रदूषण का खतरा

बीजिंग : भारत और चीन केवल बढ़ती जनसंख्या के मायने में ही एक जैसे नही है बल्कि दोनो देश वायु प्रदूषण के मामले में भी समान है। जहां एक ओर राजधानी दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के मद्देनजर नए-नए उपाय सुझाए जा रहे है, तो वहीं चीन की राजधानी बीजिंग में भी प्रदूषण खतरे की घंटी को पार कर चुका है। चीन में क्रिसमस का दिन भी गहरे धुंध के साए में बीता।

कई दिनों से चीन में वायु प्रदूषण का साया बना हुआ है, जो अब खतरे के निशान को पार कर चुका है। चीन में अमेरिका के दूतावास के मॉनिटर के अनुसार बीजिंग में शुक्रवार की सुबह धुधली सी रही। जैसे कोई कमजोर नजर वाला बिना चश्मे के बाहर झांक रहा हो। यहां पार्टिकुलेट मैटर 2.5 का लेवल 500 अंतिम निशान है, जो यह बताता है कि हवा बेहद खतरनाक हो गया है।

अधिकारियों ने बताया कि बीजिंग में मंगलवार को गंभीर प्रदूषण को देखते हुए लगाए गए रेड अलर्ट को हटा लिया था। लेकिन अब भी राजधानी में कई दिनों तक धुंध छाई रहेगी। चीन में चार स्तर पर चेतावनी अलर्ट है, जो क्रमशः रेड, ऑरेंज, येलो और ब्लू है। इससे पहले पिछले माह भी चीन में रेड अलर्ट घोषित किया गया था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -