आजादी के बाद भारत के पहले शिक्षा मंत्री और भारत रत्न से सम्मानित हुए थे मौलाना अबुल कलाम आज़ाद

By Emmanual Massey
Feb 22 2021 08:45 AM
आजादी के बाद भारत के पहले शिक्षा मंत्री और भारत रत्न से सम्मानित हुए थे  मौलाना अबुल कलाम आज़ाद

देश के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानियों में से एक और आजाद भारत के पहले शिक्षा मंत्री भारत रत्न मौलाना अबुल कलाम आज़ाद का जन्म 11 नवम्बर 1888 को मक्का सऊदी अरब में हुआ था। वें एक प्रख्यात विद्वान और कवि भी थे। उन्हें अरेबिक, इंग्लिश, उर्दू, हिंदी, पर्शियन और बंगाली भाषाओँ का ज्ञान था। मौलाना अबुल कलाम मुस्लिम परिवार से थे। उनके पिता मौलाना खैरुद्दीन अफगान मूल के एक बंगाली मुसलमान थे। उन्होंने सिपाही विद्रोह के दौरान भारत छोड़ दिया और मक्का जाकर बस गए। बाद में वें 1890 में अपने परिवार सहित कलकत्ता वापस आ गए।

बड़े होकर आज़ाद ने बंगाल के दो प्रमुख क्रांतिकारियों अरविन्द घोष और श्री श्याम शुन्दर चक्रवर्ती के साथ मिलकर ब्रिटिश शासन के खिलाफ चल रहे क्रांतिकारी आंदोलन में शामिल हो गए। धीरे-धीरे उन्होंने पूरे उत्तर भारत और बम्बई में गुप्त क्रांतिकारी केन्द्रो की संरचना की। उन्होंने मुसलमानों में देशभक्ति की भावना को बढ़ाने के लिए 1912 में ‘अल हिलाल’ नामक एक साप्ताहिक उर्दू पत्रिका प्रारम्भ की। 1914 में सरकार ने ‘अल हिलाल’ पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसके बाद उन्होंने एक और साप्ताहिक पत्रिका ‘अल बलाघ’ शुरू किया।

हालाँकि सरकार ने 1916 में इस पर भी प्रतिबंध लगा दिया और आज़ाद को कलकत्ता से निष्कासित कर रांची में नजरबन्द कर दिया, जिसके बाद उन्हें 1920 के प्रथम विश्व युद्ध के बाद रिहा किया गया। छूटने के बाद मौलाना आज़ाद ने गांधी के असहयोग आंदोलन का समर्थन किया और 1920 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में शामिल हो गए। मौलाना आज़ाद ने गांधीजी के नमक सत्याग्रह का भी जमकर समर्थन किया था, जिस कारण 1930 में उन्हें नमक कानून के उल्लंघन के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया था।

1940 में मौलाना आज़ाद कांग्रेस के अध्यक्ष बने और 1946 तक उसी पद पर बने रहे। मौलाना आज़ाद विभाजन के कट्टर विरोधी थे, देश के विभाजन से उन्हें बड़ा दुःख पहुंचा। देश आजाद होने के बाद पंडित जवाहरलाल नेहरू के मंत्रिमंडल में वें देश के पहले शिक्षा मंत्री बने। 22 फरवरी 1958 को दिल का दौरा पड़ने के कारण उनका निधन हो गया। 1992 में भारत सरकार ने उन्हें मरणोपरांत देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया।

पापा बनने के बाद सैफ की आई ये प्रतिक्रिया, जताया सभी का आभार

बड़े भाई बनने पर बहुत खुश है तैमूर अली खान, रणधीर कपूर ने किया खुलासा

मर्सिडीज-बेंज 40,000 से ज्यादा SUV के लिए जारी किया रिकॉल