मीनाक्षी की हत्या पर दिल्ली में घमासान, आप सरकार का विशेष सत्र

दिल्ली की राजनीति में इनदिनों आनंद पर्बत इलाके में बर्बर हत्या की शिकार मीनाक्षी की हत्या पर घमासान मचा हुआ है. केजरीवाल सरकार ने इसे मुद्दा बनाते हुए सोमवार को महिला सुरक्षा के मुद्दे पर दिल्ली विधानसभा में विशेष सत्र भी बुलाया. लेकिन, जिस हत्याकांड पर इतना बवाल मचाया जा रहा है, उसके पीड़ित परिवार को अब तक कोई मुआवजा नहीं दिया गया. साथ ही, सोमवार को जब मीनाक्षी के माता-पिता विशेष सत्र की कार्यवाही देखने के लिए विधानसभा पहुंचे तो काफी देर तक उन्हें बाहर ही रोक कर रखा गया. गौरतलब है कि मीनाक्षी की हत्या के बाद सरकार ने पांच लाख रुपए के मुआवजा की घोषणा की थी, लेकिन उनके परिवार को अब तक यह राशि नहीं मिली है.

मीनाक्षी के माता-पिता का कहना है कि पुलिस भी उनकी मदद नहीं कर रही है और उन्हें 'आप' के विधायक हजारी लाल चौहान से मिलने में भी काफी दिक्कत आ रही है. मीनाक्षी की हत्या पर हर किसी का ध्यान गया था और केजरीवाल सरकार ने इस पर सोमवार को विशेष सत्र भी बुलाया. जब मीनाक्षी के माता-पिता सदन की कार्यवाही देखने पहुंचे तो सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें गेट पर ही रोक लिया और किसी ने भी उनकी आइडेंटिटी जांचने की कोशिश तक नहीं की. जब मीडिया वहां पहुंचा तब उनकी बात को सुना गया. इसके बाद वे दो घंटे तक कार्यवाही देखते रहे.

सत्र समाप्त होने के बाद मीनाक्षी के पिता राजकुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्हें इस बात की काफी खुशी है कि सरकार ने उनकी बेटी की मौत के बाद इतना बड़ा कदम उठाया है. उन्हें इस बात का दुख भी है कि इस दौरान इलाके के विधायक से जब उन्होंने संपर्क करने की कोशिश की तो विधायक ने उनका फोन नहीं उठाया. बेटी की हत्या के बाद सरकार ने पांच लाख रुपए की सहायता राशि देने का ऐलान किया था. उक्त राशि अभी तक उन्हें नहीं मिली है. राजकुमार ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से भी बात की, जिन्होंने आश्वासन दिया कि मुआवजा जल्द ही मिलेगा.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -