आज है कृष्ण जन्माष्टमी व्रत, जानिए आज का पंचांग

आज के समय में लोग पंचांग देखते हैं, ऐसे में आज हम लेकर आए हैं आज का यानी 30 अगस्त का पंचांग।

30 अगस्त का पंचांग- भाद्रपद कृष्ण, अष्टमी, सोमवार, विक्रम संवत 2078। सौर भाद्रपद मास प्रविष्टे 15, मुहर्रम 20, हिजरी 1442 (मुस्लिम) तदनुसार अंग्रेजी तारीख 30 अगस्त 2021 ई०। सूर्य दक्षिणायन, उत्तर गोल, वर्षा ऋतु।

राहुकाल प्रातः 07 बजकर 30 मिनट से 09 बजे तक। अष्टमी तिथि अर्धरात्रोत्तर 02 बजे तक उपरांत नवमी तिथि का आरंभ, कृतिका नक्षत्र प्रातः 06 बजकर 39 मिनट तक उपरांत रोहिणी नक्षत्र का आरंभ।

व्याघात योग प्रातः 07 बजकर 46 मिनट तक उपरांत हर्षण योग का आरंभ, बालव करण मध्याह्न 12 बजकर 43 मिनट तक उपरांत तैतिल करण का आरंभ। चंद्रमा दिन रात वृष राशि पर संचार करेगा।

आज के व्रत त्योहार – श्री कृष्ण जन्माष्टमी व्रत, (जयंती योग) श्री दूर्वाष्टमी।

सूर्योदय का समय 30 अगस्त 2021 : सुबह 05 बजकर 58 मिनट पर।
सूर्यास्त का समय 30 अगस्त 2021 : शाम 06 बजकर 45 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्त 30 अगस्त 2021: अभिजीत मुहूर्त दोपहर 11 बजकर 56 मिनट से 12 बजकर 47 मिनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 29 मिनट से 03 बजकर 20 मिनट तक रहेगा। निशीथ काल मध्‍यरात्रि 11 बजकर 59 मिनट से 12 बजकर 44 मिनट तक। गोधूलि बेला शाम 06 बजकर 32 मिनट से 06 बजकर 56 मिनट तक। सर्वार्थ सिद्धि योग सुबह 06 बजकर 39 मिनट से अगली सुबह 05 बजकर 59 मिनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्त 30 अगस्त 2021 : राहु काल सुबह 07 बजकर 30 मिनट से 09 बजे तक। सुबह 10 बजकर 30 मिनट से 12 बजे तक यमगंड रहेगा। दोपहर 01 बजकर 30 मिनट से 03 बजे तक गुलिक काल रहेगा। दुर्मुहूर्त काल दोपहर 12 बजकर 47 मिनट से 01 बजकर 38 मिनट तक इसके बाद दोपहर 03 बजकर 20 मिनट से 04 बजकर 11 मिनट तक।

कृष्ण प्रसाद चिगुरुपति ने डॉक्टरेट की उपाधि प्रदान करने के लिए GITAM प्रबंधन को दिया धन्यवाद

देशभर में कोरोना की देर से जांच के कारण हुई 50 प्रतिशत मौतें

जन्माष्टमी: राशि के अनुसार श्री कृष्ण को अर्पित करें वस्त्र और भोग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -