जिन्ना की तस्वीर: अलीगढ़ में धारा 144, इंटरनेट बंद

जिन्ना की तस्वीर को लेकर लगी आग से आज भी अलीगढ़ और AMU जल रही है. मामला शांत होने का नाम ही नहीं ले रहा है. जिसके कारण आज पुलिस प्रशासन ने सभी तरह की इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का आदेश दे दिया है ताकि सोशल मिडिया के जरिये फ़ैल रही अन्य अफवाहों को रोका जा सके. अलीगढ में धारा 144 लगाने का आदेश देते हुए इस बाबद जिला मजिस्ट्रेट चंद्र भूषण सिंह ने जिला मजिस्ट्रेट कार्यालय से सभी संबधित विभागों को एक पत्र जारी करते हुए ये आदेश दिया. पत्र में साफ किया गया है कि कोई भी इंटरनेट  प्रदाता कंपनी आज 4 मई की दोपहर से कल 5 मई की रात 12 बजे तक अलीगढ़ जनपद क्षेत्र में इंटरनेट सुविधा मुहैया नहीं कराये.

गौरतलब है कि बीजेपी के सतीश गौतम की जिन्ना की तस्वीर पर पड़ी नजर और फिर उस पर आपत्ति स्वरुप किया गया सवाल आज एक उग्र आंदोलन का रूप ले चूका है जिसमे अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का प्रांगण जल रहा है और मुद्दे को सुर्खियों ने राजनितिक रंग में भी रंग डाला है. अपने बयान में सतीश गौतम ने कहा था कि पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर AMU  कम क्यों है. बस यही से शुरू हुआ विवाद बुधवार को उग्र रूप लेता दिखा. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने एएमयू के बाबा सैयद गेट पर जिन्ना का पुतला जलाया तो एएमयू छात्रों के बीच हाथापाई तक हुई. गनीमत है कि पुलिस ने छात्रों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज और आंसूगैस के गोले छोड़े और हालत काबू में किये.

सियासी बात करे तो बीजेपी सांसद सतीश गौतम ने मामले में वीसी को पत्र लिखकर जवाब मांग लिया है. कांग्रेस नेता राशिद अल्वी भी इस तस्वीर का विरोध कर चुके हैं. वहीं खुद बीजेपी के ही मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य तस्वीर लगाने को सही ठहरा रहे हैं, तो उधर योगी सरकार के एक अन्य कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने स्वामी प्रसाद मौर्य को ‘जिन्ना का रिश्तेदार’ कह दिया. बीजेपी के राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य को तुरंत पार्टी से बाहर निकालने की मांग की है.

अलिगढ़ के डीएम चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि एएमयू छात्रों की भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को बलप्रयोग करना पड़ा. उन्होंने बताया कि पुलिस कार्रवाई में दो युवक घायल हो गए. फ़िलहाल तनाव को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है. इसके बाद भी छात्रसंघ ने कहा है कि अगर शाम तक पुतला फूंकने वालों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो एएमयू के छात्र जेल भरो आंदोलन करेंगे. एसपी सिटी अतुल श्रीवास्तव ने बताया कि हिंदूवादी छात्र संगठन अचानक बाबा सैयद गेट पर पहुंच गए थे और उन्होंने जिन्ना का पुतला फूंका. हालांकि यहां किसी प्रकार का कोई झगड़ा नहीं हुआ और हालात अब काबू में हैं. अतुल श्रीवास्तव ने कहा कि यह जांच की जा रही है कि वाहिनी के कार्यकर्ता कैसे परिसर के गेट पर पहुंचे. उन्होंने बताया कि परिसर के भीतर और बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. हालात पूरी तरह सामान्य होने तक गश्त जारी रहेगी. 

 

जिन्ना की तस्वीर: हिन्दू वाहिनी ने दी चेतावनी

जिन्ना ने देश के टुकड़े किये, बखान का सवाल ही नहीं उठता- योगी

जिन्ना की तस्वीर और सियासी आग में झुलसा AMU का प्रांगण

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -