BS-3 मामले में ऑटो निर्माताओं की मदद के लिए आगे आए गडकरी

मुम्बई : शनिवार से बीएस-3 वाहनों की बिक्री पर उच्चतम न्यायालय की रोक से प्रभावित एवं चिंतित ऑटो निर्माताओं की मदद के लिए सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आगे आये हैं. उन्होंने कहा ऑटो निर्माताओं को सहयोग करते हुए सरकार कानूनी समाधान खोजेगी.

बता दें कि परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि हम लोग अदालत के फैसले का सम्मान करेंगे. उसे लागू करते वक्त अगर कुछ कानूनी मदद ली जा सकती है, तो हमलोग ऐसा करेंगे. उन्होंने यह स्वीकार किया कि बेहद सख्त उत्सर्जन नियंत्रण बीएस-6 व्यवस्था की ओर रूख करने से पहले उनके मंत्रालय ने इसके पूर्व ऑटो निर्माताओं को इन्वेंट्री बेचने की अनुमति दी थी.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार कल से यानी 1 अप्रैल से बीएस थ्री मानक वाली गाड़ियां नहीं बिकेंगी और ना ही ऐसी गाड़ियों का पंजीयन किया जाएगा. कोर्ट के इस फैसले के बाद ऑटो निर्माताओं में हड़कम्प मच गया, वाहनों के डीलर बाइक वाले पुराने मॉडल की गाड़ियों पर भारी छूट दे रहे हैं. कई जगह बाइक खरीदने के लिए भारी भीड़ जमा हो गई. यहां आपको इस बारे में खुलासा कर दें कि बीएस यानी भारत स्टेज का आशय यह है कि आपकी गाड़ी कितना प्रदूषण फैलाती है. बीएस के जरिए ही भारत सरकार गाड़ियों के इंजन से निकलने वाले धुएं से होने वाले प्रदूषण को नियंत्रित करती है.

यह भी देखें

बीएस-3 वैरिंयटीड़ वाहनो पर भारी छुट

जानें मोटरसाइकिल सिखनें के कुछ आसान टिप्स

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -