40 हजार पशु निवास बनाएगी खट्टर सरकार

पशुपालन के माध्यम से किसानों की इनकम दोगुनी करने में जुटी हरियाणा गवर्नमेंट ने इस दिशा में एक और बड़ा कदम उठाया है. गवर्नमेंट गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले पशुपालकों को फ्री में पशु-शैड बनाने का बनाकर देने का निर्णय लिया है.​ डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यह कार्य ग्रामीण विकास महकमें मनरेगा स्कीम के तहत करवाएगा.

यहां पर दो न्यायाधीश को कोरोना ने बनाया शिकार

चौटाला ने बताया कि, हरियाणा कृषि व्यवसाय के इलाकों में मुल्क के अग्रणी प्रदेश में से एक है. प्रदेश  गवर्नमेंट चाहती है कि कृषि जोत छोटी होने की वजह से लोग पशुपालन का व्यवसाय भी कृषि के साथ-साथ करें, ताकि उनकी आमदनी बढ़ सके. इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने अनुसूचित जाति वर्ग, विधवा, महिला-प्रमुख घर, बीपीएल तथा छोटी जोत वाले किसानों को वरीयता के मुताबिक उनके पशुओं के लिए फ्री पशु-शैड बनाने का फैसला लिया है.

शरद पूर्णिमा : चन्द्रमा की किरणों के मध्य क्यों रखी जाती है खीर, जानिए कारण ?

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रथम चरण में मार्च 2021 तक ऐसे 40,000 पशु-शैड निर्मित करने का लक्ष्य तय है. जबकि 30 सितंबर 2020 तक 10,000 का निर्माण कार्य पूर्ण हो जाएगा. प्रदेश में गरीबों के पशुओं के लिए शैड बनाने पर कुल 200 करोड़ रूपए व्यय किए जाएंगे.चौटाला ने बताया कि आज भी कई ऐसे गरीब परिवार हैं, जिनके पास पशुओं के लिए शैड नहीं हैं. जिसके कारण उनको काफी क्षति उठाना पड़ता है. उन्होंने बताया कि इस योजना से जहां गरीबों के पशु सुरक्षित होंगे वहीं जरूरतमंद लोगों को शैड बनाने में रोजगार भी मिलेगा.हरियाणा सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड की तर्ज पर पशु किसान क्रेडिट कार्ड भी बनाना प्रारंभ किया है. जिसके तहत 3 लाख रुपये तक का क्रर्ज केवल  4 प्रतिशत रेट पर मिलेगा. जिसके लिए अब तक 1,40,000 पशुपालकों के फार्म भरवाए जा चुके हैं.

इंडियन कोस्ट गार्ड ने पेश की मिसाल, बचाई हार्ट अटैक से तड़पते 'पाकिस्तानी' कैप्टन की जान

हरियाणा : इस दिन तक राज्य में नहीं थमने वाली बारिश

दौसा : गैंगरेप केस में भड़के लोग, सड़को पर किया जोरदार प्रदर्शन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -