नौका में सवार 40 की गई जान, दम घुटने से साढ़े तीन सौ प्रवासियों पर छाया संकट

रोम : भूमध्यसागर में माईग्रेंटस अर्थात् प्रवासी नागरिकों की नाव में दुर्घटना हो गई। जिसमें लोगों का दम घुट गया और उनकी मौत हो गई। इस दौरान 40 लोगों की मौत होने की जानकारी है जबकि नाव में सवार 300 लोगों को लीबिया के तट के पास उसे बचा लिया गया। मामले में यह बात सामने आई है कि इटली की समाचार एजेंसी द्वारा नेवी के प्रवक्ता कोस्टनरिनो फंटासिया के हवाले से जानकारी मिली है कि नाव में 350 प्रवासी शामिल थे। इस दौरान लीबिया के तट के समीप समुद्र में इस तरह का हादसा हुआ।

मिली जानकारी के अनुसार नेवी के प्रवक्ता कोस्टनरिनो फंटासिया द्वारा कहा गया कि नाव में सवार लोगों को बचाने का प्रयास किया गया। यही नहीं मगर  मौतों के कारणों पर अभी जांच होनी है। मामले में यह बात सामने आई है कि मृतकों के शव बोट के तल में पानी, डीजल आदि के नीचे दबे पाए गए। हादसे की जानकारी मिलते ही राहत दल बचाव कार्य में जुट गया। इस दौरान इटली की नेवी का जहाज सिगाला फुलगोसी बचाव में लग गया है। यही नहीं लोगों को इटली के बंदरगाह की ओर ले जाया गया।

संयुक्त राष्ट्र द्वारा कहा गया कि भूमध्य सागर पार करने के बाद योरप में प्रयास किए गए दूसरी ओर वर्ष 2000 से भी ज़्यादा लोग मारे गए हैं। नाव डूबने के बाद 50 प्रवासी लापता हो गए। इस दौरान इसके पूर्व लीबिया के तट के पास नाव डूबने से 200 प्रवासियों की मौत हो गई थी। उल्लेखनीय है कि अफ्रीका, मिडल ईस्ट और एशिया के देशों के लोगों द्वारा जंग, गरीबी के साथ अन्य परेशानियों में रहकर लीबिया पहुंचे। लीबिया के उत्तरी योरप में प्रवेश लेने के प्रयास किए गए हैं। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -