300 ब्लैककैट कमांडोज़ ने की एयरबेस स्टेशन पर कार्रवाई

Jan 06 2016 10:31 AM
300 ब्लैककैट कमांडोज़ ने की एयरबेस स्टेशन पर कार्रवाई

नई दिल्ली : पठानकोट के एयरफोर्स बेस स्टेशन में हुए आतंकी हमले के बाद अब इस हमले से जुड़े विभिन्न पहलू सामने आ रहे हैं। जिसमें सुरक्षा बलों द्वारा किए गए आॅपरेशन को लेकर भी जानकारी सामने आई है। इस दौरान यह कहा गया है कि इस आॅपरेशन में लगभग 300 कमांडोज़ ने अपनी कार्रवाई की। माना गया है कि भारत के सबसे लंबे आॅपरेशंस में से एक आॅपरेशन पठानकोट का यह आॅपरेशन है। इस तरह के आॅपरेशन को अंजाम देने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के करीब 300 ब्लैक कैट कमांडोज़ ने अपनी इंटेलिजेंसी का परिचय दिया।

इन कमांडोज़ ने एयरफोर्स के बेस स्टेशन में छुपे हमलावरों को ढेर कर दिया। इस तरह के अभियान से जुड़े सूत्रों द्वारा कहा गया कि आतंकियों से मोर्चा लेने हेतु करीब 160 कमांडोज़ की पहली टुकड़ी वायुसेना के विमान से पालम हवाई अड्डे से रवाना की गई थी। आॅपरेशन लंबा चला। मगर करीब 80 - 80 कमांडोज़ की टुकड़ी बेस स्टेशन पर जाती रही। इन कमांडोज़ ने एयर बेस स्टेशन का चप्पा - चप्पा छानमारा।

केंद्रीय गृहमंत्रालय द्वारा एनएसजी मुख्यालय को पठानकोट हमले में आतंकियों के विरूद्ध कमांडोज़ को मोर्चे पर लगाने के निर्देश दिए गए थे। कामंडोज़ ने अपने आॅपरेशन को अंजाम देते हुए एयरबेस स्टेशन को सुरक्षित कर लिया। कमांडोज़ और सुरक्षाबलों ने आतंकियों के सफाए के लिए एमपी-5 असाॅल्ट रायफल, ग्लाॅक पिस्टल, काॅर्नर शाॅट गन और दीवार उड़ाने वाले आधुनिक हथियार भी उपयोग में लाए।