ताजमहल तक आ पहुंचा यमुना का पानी, क्‍या स्‍मारक को पहुंचेगा नुकसान?

ताजमहल तक आ पहुंचा यमुना का पानी, क्‍या स्‍मारक को पहुंचेगा नुकसान?
Share:

आगरा: देश के तमाम भागों में निरंतर हो रही वर्षा से तमाम स्थानों पर बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. देश की राजधानी दिल्‍ली के तमाम क्षेत्रों को जलमग्‍न करने के बाद यमुना नदी का पानी अब आगरा तक पहुंच गया है. मंगलवार को यमुना का जलस्तर 499.97 फीट तक पहुंच गया, तत्पश्चात, यमुना नदी अपने किनारों को तोड़ते हुए शहर में पहुंच गई हैं. यमुना का पानी ताजमहल की दीवारों तक पहुंच गया है. इससे लोगों को 'मोहब्बत की निशानी' ताजमहल की फिक्र सताने लगी है. हालांकि ताज महल को लेकर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण मतलब कि ASI के बयान से थोड़ी राहत प्राप्त हुई है. ASI के अनुसार, बढ़े हुए जलस्‍तर से ताज महल को किसी प्रकार का खतरा नहीं है. 

वही एक वरिष्‍ठ पत्रकार का कहना है कि यमुना का जल ताजमहल के आसपास के निचले क्षेत्रों तक पहुंचा है. इसकी वजह से मेहताब बाग डूब गया है. मगर ये ताजमहल के भीतर नहीं घुसा है. यदि यमुना का पानी ताजमहल के भीतर घुस भी जाए तो भी ताजमहल को किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है क्‍योंकि ताजमहल की नींव को ही एक लकड़ी पर रखा गया है, जो पानी से और अधिक मजबूत हो जाती है. वहीं दीवारों की यदि बात करें तो ताजमहल की दीवारें पत्‍थर से बनी हैं, इसलिए उनको भी यमुना के पानी से नुकसान का कोई खतरा नहीं है.

उनके अनुसार, इससे पहले वर्ष 1978 में यमुना का पानी ताजमहल के अंदर घुस गया था, मगर तब भी ताजमहल को पानी के चलते नुकसान नहीं हुआ. तत्पश्चात, 2010 में भी ताजमहल के आसपास पानी आया था, मगर अंदर नहीं घुसा था. अभी भी वही स्थिति है. यमुना के जल ने ताजमहल की पिछली दीवार को छू लिया है. ताजमहल के आसपास बने निचले क्षेत्रों में भर गया है, कई आवासीय कॉलोनियों एवं गांवों तक पहुंच गया है. यहां तक कि मेहताब बाग स्मारक भी इसकी वजह से जलमग्‍न हो गया है, इसकी वजह से पर्यटकों के लिए मेहताब बाग को अनिश्चितकाल के लिए बंद भी किया गया है. मगर अभी ताजमहल के भीतर नहीं घुसा है.

बाबा महाकाल की सवारी पर थूकने वाले आरोपियों के मकान पर चला प्रशासन का बुलडोजर, ढोल बजाकर पहुंची पुलिस

भारी बारिश के कारण पानी-पानी हुआ राजकोट, सड़कों पर सैलाब, 70 लोगों का किया रेस्क्यू

महाराष्ट्र के इस किसान ने बाबा बर्फानी को चढ़ाया प्याज का प्रसाद, चौंकाने वाली है वजह

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -