बच्चे के लिए दी बच्चे की बलि

आज देश आधुनिकता की ओर दौड़ रहा है, लेकिन फिर भी लोग अंधविश्वास के मकड़जाल में इस कदर उलझे हैं कि उन्हें सही और गलत के बीच का भेद पता नहीं चलता. यहां तक कि अपना स्वार्थ साधने के लिए लोग किसी मासूम की हत्या तक कर देते हैं. यूपी में संतान की चाहत में एक महिला ने तांत्रिक के कहने पर एक दूसरी महिला की गोद उजाड़ दी.

उत्तर प्रदेश में शाहजहांपुर के जमुका गांव में दो दिन पहले एक 10 साल के बच्चे का शव मिला था जिसकी हत्या कर दी गई थी. नगर पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने शुक्रवार को इस मामले मे तीन आरोपियों, महिला धन देवी, उसके प्रेमी सूरज और ममेरे भाई सुनील को गिरफ्तार किया. उन्होंने बताया, "धन देवी की शादी पीलीभीत जिले में हुई है, शादी के छह साल बाद भी उसकी कोई संतान नहीं हुई तो उसने अपने प्रेमी सूरज के साथ एक तांत्रिक से संपर्क किया.”

उन्होंने बताया “तांत्रिक के कहने पर पांच दिसंबर की शाम, बृजेश दास के 10 साल के बेटे लालदास की धन देवी, सूरज और उसके ममेरे भाई सुनील ने अपहरण कर हत्या कर दी थी और शव मंदिर के पीछे फेंक दिया था."  तांत्रिक की तलाश में पुलिस टीम भेजी गई है.

किसानों के लिए आयोजित सम्मेलन में किसानों से मारपीट

दलित छात्रा का निर्वस्त्र शव खेत से बरामद

फर्जी एजुकेशन बोर्ड बाँट रहा था नकली डिग्रियाँ

Most Popular

- Sponsored Advert -