1.16 लाख लोगों को IT का नोटिस

By Mohan Joshi
Nov 29 2017 02:54 PM
1.16 लाख लोगों को IT का नोटिस

नई दिल्ली : नोटबंदी के बाद बैंक खातों में 25 लाख रुपये से अधिक जमा कराने और इसका रिटर्न नहीं दाखिल करने वाले 1.16 लाख लोगों और कंपनियों की मुश्किलें शुरु हो गई है, क्योंकि इन्हे आयकर विभाग ने नोटिस भेजकर कारण पूछा है. यह जानकारी केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने मंगलवार को दी.

इस बारे में चन्द्रा ने बताया कि कर विभाग ने नोटबंदी के बाद 500 और 1,000 के बंद किये गये ढाई लाख रुपये से अधिक के नोट जमा कराने वाले लोगों की पड़ताल की है. ऐसे लोगों और कंपनियों को अलग-अलग किया गया है, जिन्होंने अभी तक अपना आयकर रिटर्न नहीं जमा किया है. इन लोगों को दो श्रेणियों 25 लाख रुपये से अधिक जमा कराने वाले और 10 से 25 लाख रुपये तक जमा कराने वालों के बीच बांटा गया है.

चंद्रा ने कहा, नोटबंदी के बाद बंद नोटों में 25 लाख रुपये अथवा इससे अधिक जमा कराने वाले लोगों की संख्या 1.16 लाख है. इन लोगों ने अभी तक अपना रिटर्न जमा नहीं कराया है.’ उन्होंने बताया कि ऐसे लोगों और कंपनियों को 30 दिन के भीतर अपना आयकर रिटर्न जमा कराने को कहा गया है. 2.4 लाख लोग ऐसे हैं जिन्होंने बैंक खातों में 10 से 25 लाख रुपये जमा कराए हैं, लेकिन इन्होने भी अभी तक रिटर्न दाखिल नहीं किया है. इन लोगों को दूसरे चरण में नोटिस भेजा जाएगा. ये नोटिस आयकर कानून की धारा 142 (1) के तहत भेजे गए हैं.

यह भी देखें

दिल्ली -एनसीआर में पड़े छापे

शशिकला के रिश्तेदारों पर गिरी छापे की गाज